सेवानिवृत् होने पर चौकी प्रभारी चुंडावत का किया सम्मान, गांव में बैंड-बाजों से निकाला जुलुस

0
573

भूपेन्द्र बरमंडलिया, मेघनगर

देश भक्ति जनसेवा के मूलमंत्र को अपने सेवाकाल में बनाएं रखने व पुलिस सेवा में 42 वर्ष सात माह तक कार्यरत रहे। राजस्थान की मिट्टी में आसपुर कस्बे में पले बढ़े सहायक उपनीरीक्षक से रिटायर्ड हुए हरिसिंह चुंडावत का ग्राम मित्रमंडल व पत्रकार संघ द्वारा स्वागत अभिनंदन समारोह रखा गया । इस कड़ी में पुलिस चौकी रंभापुर से बैंड-बाजे से विजय जुलुस निकाला गया। चूंडावत परिवार के सदस्य सहित आयोजन में विधायक वीर सिंह भुरिया,भाजपा जिला उपाध्यक्ष राजमल पड़ियार,भारत सिंह सांकला, नवल सिंह नायक, ,पत्रकार पंकज रांका, भुपेन्द्र बरमण्डलिया,अभय जैन,डॉ हितेश खतेडिया, नवागत चौकी प्रभारी नवल सिंह बघेल, कल्याणपुरा के सब इंस्पैक्टर असफाक ख़ान उर्स कमेंटी के भुरूभाई,ईश्वर धमावत, प्रवीण कठोरता, केशव धमावत ,प्रहलाद सिंह नायक, डॉ भरपोड़ा,पुलिस स्टाफ ने भी शिरकत की।जगह जगह पुष्पमाला से स्वागत व फलों का वितरण भी किया। एसपी आशुतोष गुप्ता एसडीओ एम एस गवली टीआई कैलाश चौहान पुर्व टीआई कौशल्या चौहान ने शुभकामना संदेश में चुंडावत की कर्तव्य निष्ठा व अनुशासन की सराहना की। पंचमुखी हनुमान परिसर में भव्य सम्मान समारोह में हरि सिंह चुंडावत व पदोन्नति हुए शेलेन्द्र रघुवंशी को साफा बांधकर अभिनंदन पत्र भेंट कर सम्मानित किया। सम्मान समारोह को संबोधित करते रविन्द्र राठौर , लूणसिंह धमावत, पंकज रांका ने चुंडावत के व्यतित्व व कार्यशैली पर प्रकाश डाला। ग्राम के मिट्टी के राष्टीय कवि निसार पठान रंभापूरी ने सेवा के पर्याय रहे अनुशासन के अध्याय रहें कविता के जरिए चुंडावत के व्यक्तित्व को रेखांकित किया।राजमल पडियार ने कहा राजस्थान की शौर्य मिट्टी और में ही कर्तव्य शनिसठ जन्म लेते है‌। विधायक भुरिया ने चुंडावत जी के रंभापुर में सेवाकाल में दो कार्यकाल को अद्भुत बताया। उनके अपराध मुक्ति के कार्य की सराहना की। अपने स्नेही उदबोधन में श्री चुडावत ने कहा रंभापुर के जन जन का स्नेह प्यार मिला जो अविस्मरणीय है। पुलिस आरक्षक से इंस्पेक्टर तक के सफ़र व प्रेरक प्रसंग सहित कहा गांव में ही संस्कार व सम्मान मिलता है शहरों व महानगरों में ऐसी परम्परा सिर्फ रस्म अदायगी रहतीं। आपने उज्जैन धार खवासा बामनिया के कार्यकाल को भी स्मरण कर यादगार बताया। उक्त आयोजन में वीरेन्द्र जैन,जामुसिंह सहलोत, अनोखिलाल पडियार,योगेश नायक,केशव धमावत, नकुल कठोता, ब्रजेश हांडा ,रविंद्र बरमण्डलिया,दिनेश धमावत,कपिल बाकलिया,शिवाली रांका ,नवल नायक,आदि ने भी संबोधित किया। संचालन राजेन्द्र पडवाल व आभार अभय जैन ने माना। स्नेह भोज के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ। आयोजन को सफल बनाने में पंचमुखी हनुमान मंदिर समिति का सहयोग भी सराहनीय रहा

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here