जानलेवा बना जहरीला शहद , दो मासूम की मौत , दंपति गंभीर

अलीराजपुर डेस्क के लिऐ ” जितेंद्र वाणी” की रिपोर्ट 

मृत बच्चे
मृत बच्चे

IMG-20151103-WA0047

अज्ञानता के चलती आदिवासी अंचलो मे अक्सर जानलेवा घटनाऐ होती रहती है ताजा घटनाक्रम अलीराजपुर जिले के नानपुर थाना क्षेत्र के ” तीती” गांव का है जहां एक दंपत्ति की अज्ञानता उनके दो मासूमों पर भारी पड गयी उनके दोनो बच्चो की जान चली गयी जबकि दंपत्ति खुद गुजरात के बोडेली के सरकारी अस्पताल मे जीवन ओर मृत्यू के बीच संघर्ष कर रहे है अलीराजपुर के एसपी ” कुमार सौरभ ” ने बताया कि जहरीला ” शहद” खाने से नानपुर थाने के ” तीती” गांव के ” दुमसिंह” के परिवार ने आज ” मधुमक्खी” के छत्ते को तोडकर ” ताजा” शहद खाया था । शहद खाते ही उसके दो बच्चे ” कमलेश ( 7 ) एंव बच्ची ” सेकडी” ( डेढ साल ) की मौत हो गयी जबकि खुद ” दुमसिंह (  30 ) एंव उसकी पत्नी ” जमुनाबाई ( 27 ) गंभीर रुप से बीमार हो गये जिन्हें इलाज के लिए अलीराजपुर जिला चिकित्सालय से गुजरात के बोडेली ले जाया गया है । एसपी कुमार सौरभ ने बताया कि शुरुआती जांच मे यह बात सामने आई है कि इस पीडित परिवार ने दो दिन पहले ही मधुमक्खी के छत्ते से मधुमक्खीयो को भगाने के लिए ” कपास” मे छिड़कने वाली दवाईया ( लिक्विड ) का इस्तेमाल किया था जिससे मधुमक्खीया तो उड गयी लेकिन शहद जहरीला हो गया लेकिन आज ” दुमसिंह” ने यह सोचकर छत्ते को तोडकर ताजा ” शहद” परिवार सहित खा लिया कि दवाई का असर अब खत्म हो गया होगा । फिलहाल पुलिस ने नानपुर थाने पर मग॔ कायम कर जांच शुरु कर दी है ।