ग्रामीण अंचल की स्कूल की हालत बदतर : स्कूल की छतों से टपक रहा पानी, समस्याओं के बीच नौनिहाल पढ़ाई को मजबूर

0
235

शिवा रावत, उमराली
शासकीय प्राथमिक विद्यालय धंधली फलिया उमराली स्कूल की हालत दिनोंदिन बद से बदतर होती जा रही है जबकि कुछ ही वर्ष पूर्व स्कूल का निर्माण किया गया था परन्तु आरसीसी की छत होने के बावजूद भी पानी स्कूल के कमरों में टपक रहा है। इसके विपरीत स्कूल आने जाने के लिए जो रास्ता है वह बारिश के पानी से लबालब भर कर पानी रोको अभियान को सार्थक करता है और स्कूल के बच्चे इस रास्ते से बमुश्किल निकलकर स्कूल तक आ पाते हैं। बारिश का पानी इस रास्ते पर जमा हो जाने के चलते इस मार्ग से निकलने के लिए स्कूली छात्र-छात्राओं ने पत्थर जमाए ताकि वे इस मार्ग से आ जा सके। इसके विपरीत स्कूल के आसपास बड़ी-बड़ी झाडिय़ां उग आई है और इसमें जहरीले जानवरों का वास हो चुका है और वे घूमते रहते हैं। वहीं स्कूलों में जब अपनी कक्षाओं में बच्चे जाते हैं तो छतों का पानी लगातार रिसते रहने से पढ़ाई करना दुश्वार हो रहा है। इसके विपरीत स्कूल के कार्यालय के कक्ष में दस्तावेजों को बचाने के लिए एक बरसाती बांध रख है। इसके अलावा स्कूल में शौचालय तक की व्यवस्था नहीं है बच्चों को खुले में जाना पड़ रहा है और उन्हें जहरीले जंतुओं से भी खतरा रहता है, लेकिन फिर भी पढ़ाई के लिए वे खतरे मोल लेकर इस स्कूल में अध्ययनरत है। वहीं स्कूल के मुख्य से 2 किलोमीटर दूर होने के ओर स्कूल तक सड़क नही होने पर भी जिम्मेदारों अधिकारियों को बच्चों की इस समस्या से कोई लेना देना नहीं है। दूसरी तरफ विद्यालय के प्रधान पाठक नरवर सिंह अमलियार ने बताया कि इस प्रकार की समस्याओ की जानकारी हमने आगे लिििखत में दी हे परन्तु अभी तक इस विषय मे कुछ पहल नही हुई।
)