बदमाशो ने आसाराम बापू के आश्रम पर बोला धावा, कट्टा और चाकू अड़ाकर ले भागे ₹ लाखो

0
1532

सलमान शेख। पेटलावद
नगर में चोरो का आतंक लगातार जारी है, लेकिन पुलिस न तो चोरी कम कर पा रही है और न ही इन बदमाशो का कोई सुराग लगा पा रही है। अभी तक नगर में जितनी भी चोरी की वारदात हुई है लगभग सभी में पुलिस के हाथ अब तक खाली है। वहीं लगातार हो रही इन वारदातो से नगर के लोग चिंतित और भयभित है, लेकिन पुलिस प्रशासन इसे लेकर गंभीर नही दिख रहा।
आज बुधवार तडक़े साढ़े 3 बजे करीब एक बार फिर चोरो ने वारदात को अंजाम देते हुए लाखो रूपए कट्टे और चाकू की नौक पर अपने साथ ले भागे। यह वारदात बदमाशो ने शहर के रायपुरिया मार्ग स्थित आसाराम बापू के आश्रम पर की। जानकारी के मुताबिक बदमाश पीछे से दीवार फांदकर भीतर दाखिल हुए। सबसे बड़ी बात यह है कि बदमाशो को यह पता था कि सीसीटीवी कैमरे कहां लगे है और जब वहां रहकर अपनी सेवा दे रहे जीतू भाई जब सफाई के लिए अपने कमरे से बाहर निकले तो दो बदमाश जिनके पास कट्टा और चाकू था, वह मौका देख कमरे में घुंस गए। इसके बाद जैसे ही जीतू भाई अंदर कमरे में पहुंचे वैसे ही एक ने कट्टा कनपट्टी पर रखकर तो दूसरे ने चाकू पेट पर रखकर उनसे रूपयो का पूछा, इसके बाद उन्होनें घबराकर रूपए कहां है यह बता दिया। बदमाश केवल रूपए लेने आए थे, उन्हें रूपए मिलते ही वह जिधर से आए थे उधर से वापस भाग निकले। बदमाश अपने साथ जो बुक्स किताबे आश्रम में बेचकर इकठ्ठी की गई रकम 3 लाख 88 हजार रूपए थी, उसमें से 3 लाख 38 हजार रूपए अपने साथ ले भागे। 50 हजार रूपए जल्दबाजी में बदमाशो के हाथ से गिर गए।
रैकी की आशंका-
जानकारी के मुताबिक बदमाशो को यह पता था कि सीसीटीवी कैमरे आश्रम में कहां लगे है। इस वारदात को अंजाम देने से पहले बदमाशो ने आश्रम की पूरी तरह रैकी की होगी और यही वजह है कि वह आगे की बजाय पीछे से घुंसे और उन्हें यह भी पता था कि रूपए उन्हें कहां मिलेंगे। इसलिए उन्होनेंं उसी कमरे को निशाना बनाया।
पुलिस की कार्यप्रणाली पर प्रश्रचिह्न-
एक के बाद एक हो रही चोरी की वारदात से पुलिस की कार्यप्रणाली पर प्रश्रचिह्न खड़े हो रहे है। नगरवासियो का कहना है कि नगर में पिछले कुछ दिनो से चोरो का दल सक्रिय रूप से शहर के विभिन्न स्थानो पर वारदात को अंजाम दे रहा है। आम आदमी के लिए नगर में रहना अब खतरे से खाली नही है। क्यो पुलिस चोरी नही रोक पा रही है। लगातार चोरी की वारदात से पुलिस और सुरक्षा व्यवस्था को चुनौती मिल रही है।
मामला अभी डाउटफूल है-
टीआई नरेंद्र वाजपेयी का कहना है कि यह मामला अभी डाउटफूल लग रहा है। इसलिए अभी हम पहले जांच कर रहे है। जब तक जांच पूरी नही हो जाती तब तक हम कुछ नही कह सकते।