नवागत टीआई की दो टूक; अपराधी खुद अपराध करना छोड़ दे या फिर नगर छोडक़र भाग जाए..

0
852

सलमान शैख़@ पेटलावद
वर्दी का खौफ बदमाशों और अपराधियों में होना चाहिए, न कि जनता में पुलिस का डर हो। यदि कोई व्यक्ति पीडि़त है तो वह निडर होकर थाने तक पहुंचकर अपनी बात रख सके। पुलिस की यही प्राथमिकता रहती है। आपराधिक किस्म व नशे का नेटवर्क फैलाने वाले लोगों से कहा है कि या तो शहर छोड़ दो। कोई भी अपराधी किसी भी प्रकार का भ्रम अपने मन मे मत रखना। अपराध मुक्त-भय मुक्त शहर बनाने के साथ-साथ नशा मुक्त शहर बनाना ही मेरी प्राथमिकता है।
ये दो टूक चेतावनी नवागत टीआई दिनेश शर्मा ने पुलिस थाना परिसर में हुई नगर की शांति समिति में कही। इस दौरान उन्होंने सभी को मैसेज दिया कि कानून की अनदेखी, नियमों को तोडऩे, अफवाह फैलाने वालों, अपराधियों पर सख्त कार्रवाई होगी, फिर चाहे वह किसी नेता, जनप्रतिनिधि या और किसी से रिश्ता रखता हो।
दरअसल, आगामी त्योहार व पर्वों को लेकर कल शाम पुलिस थाना परिसर में शांति समिति की बैठक रखी गई थी। बैठक से पहले इंदौर स्थानांतरण हुए टीआई नरेंद्र वाजपेयी को रिलीव करने के बाद नए टीआई के रूप में दिनेश वर्मा को पदस्थ किया, जिन्होंने चार्ज लिया। टीआई वाजपेयी के विदाई समारोह की अध्यक्षता एसडीओपी श्रीमती बबिता बामनिया ने की। इनकी विशेष मौजूदगी में कई विषयों पर चर्चाएं और मंथन हुए। रक्षाबंधन, ईदउज्जुहा, जन्माष्टमी आदि पर्वो को मिलकरजुलकर भाईचारे से मनाने पर जोर दिया गया।
बताते चलें कि श्री शर्मा ढाई दशक पूर्व भी थाना प्रभारी के रूप में अपनी सेवा दे चुके हैं। उस दौर को याद करते हुए जहां आपराधिक एवं माफिया प्रवित्ति के लोग डरे सहमे हुए हैं। वहीं आमजन में कानून व्यवस्था को लेकर नया विश्वास और उत्साह पैदा हुआ है। इसलिए उसी तरह कानून व्यवस्था कायम करने के लिए थाना प्रभारी प्रयासरत हैं।
टीआई श्री शर्मा ने कहा महिलाओ और बालिकाओ के संबंधी होने वाले अपराधो पर रोक लगाना मेरी सबसे पहली प्राथमिकता है। मैं शहर की जनता को विश्वास दिलाता हू कि यहां किसी अपराधी व अपराधिक गतिविधियों को अंजाम देने वाले व्यक्ति को ठिकाना नहीं मिलेगा। उन्होंने जनता से भी अपील है कि अगर उनके यहां किसी प्रकार का कोई अवैध धंधा जैसे नशा का कारोबार या फिर कोई अपराधी नजर आए तो वे सीधे उन्हें या पुलिस कंट्रोल रूम पर सूचना दें। सूचना देने वाले का नाम व पहचान गुप्त रखी जायेगी। पुलिस समय रहते न केवल कार्रवाई करेगी, बल्कि जनता को यह महसूस कराया जाएगा कि वह पूरी तरह महफूज है।
पूर्व टीआई वाजपेयी साहब ने जिस रणनीति के तहत अपराधियों की नकेल कसी थी उसे मेरे द्वारा भी आगे बढ़ाकर स्वाट , सर्विलांस और क्राइमब्रांच को सक्रिय रखकर अपराधियों की धरपकड़ जारी रखी जाएगी।
एसडीओपी श्रीमती बामनिया ने कहा टीआई वाजपेयी ने सभी चुनौतियों को बखूबी निभाकर शहर में शांति व्यवस्था बनाई रखी। इस दौरान टीआई श्री वाजपेयी ने कहा कि मुझे जो यहां की जनता से एवं आप लोगों से स्नेह औऱ प्यार मिला है, उसे मैं कभी नहीं भूल पाऊंगा। इस दौरान नायब तहसीलदार श्री नायक, उपनिरीक्षक वास्कले और नरेश ननामा सहित पुलिस स्टाफ और नगर के गणमान्य नागरिक मौजूद रहे।