गोविंदा आले रे… और पहुंच गए मटकी तक माखन चोर गवाले…, हजारो लोग बने साक्षी..

0
335

सलमान शैख़@ पेटलावद

योगीराज भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव जन्माष्टमी पर्व गुरूवार रात नगर सहित क्षैत्र में आस्था एवं उत्साह एवं भक्तिभाव व श्रद्धा के साथ मनाई गई। श्रीकृष्ण जन्मोत्सव का उल्लास पूरे शहर में बिखरा रहा। सुबह से ही मंदिरो में श्रद्धालु भगवान के दर्शन को पहुंचे। पुराना बस स्टैंड पर राधाकृष्ण मित्र मंडल ने लगातार 15वें वर्ष शहर के लाडले स्वर्गीय घमोला की स्मृति में तो श्रद्धांजलि चौक (नए बस स्टैंड) पर श्रीकृष्ण मित्र मण्डल और अभा हिंदू महासभा ने विशाल भजन संध्या और मटकी फोड़ प्रतियोगिता का आयोजन किया। इसके अलावा नगर में एक दर्जन स्थानो पर मटकी फोड़ी गई। जन्माष्टमी पर शाम ढलते ही घरो में नंद के घर आनंद भयो जय कन्हैयालाल की के जयकारे लगे। गोधुली बेला के साथ ही शहर के गली-मोहल्लो में शंखो की आवाजे गुंजायमान होने लगी। इसी के साथ घरो-घर में पारंपरिक रूप से कृष्ण जन्म की पूजा-अर्चना का दौर हो गया। जो अर्धरात्रि तक चला। विभिन्न राधाकृष्ण मंदिरो में रात्रि 12 बजे भगवान की जन्म आरती की गई।
विशेष प्रस्तुतियों ने मोहा मन-
इंदौर के प्रसिद्ध मंजूश्री म्यूजिकल ग्रुप की प्रस्तुति देखने श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी। उन्होने राधाकृष्ण रासलिला, घुमर नृत्य, कथक सहित देशभक्ति के तरानो पर प्रस्तुति दी। जलते खप्पर सीर पर रखकर की गई प्रस्तुति देख सभी दांतो तले उंगलिया दबाने पर मजबूर हो गए। जो सभी के लिए आकर्षण का केंद्र बनी। अपने नृत्यो की प्रस्तुति देकर कलाकारो ने दर्शको का मन मोह लिया।
नगर की उभरती प्रतिभा की प्रस्तुति को सराहा-
इस बार नए बस स्टैंड पर एक विशाल भजन संध्या का आयोजन किया गया। आयोजन में मुख्य अतिथि के रूप में सांसद और अतिथि के रूप में विधायक वालसिंह मैड़ा के पुत्र उपस्थित रहे। मटकी फोड़ कार्यक्रम शुरू होने के बाद छोटी सी उम्र में आदिवासी गीतो में अपनी विशेष छाप छोडऩे वाले पेटलावद नगर के माही कॉलोनी के लवनेश पुरोहित ने अपने गीतो से सभी का मन मोह लिया। भजन सध्या में आदिवासी अंचल के मशहूर लोकगीत कलाकर वीके भूरिया, जया मुणिया भी पहुंचे थे, जिन्होनें अपने सुमधूर गीतो से भजन संध्या में भक्ति का रस घोला। सभी कलाकारों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर कई सामाजिक कार्यकर्ता, अभा हिंदू महासभा के कार्यकर्तागण औैर श्रीकृष्ण मित्र मण्डल के सदस्यगण आदि मौजूद रहे।
एसडीएम, एसडीओपी और टीआई ने उतारी महाआरती-
पुराना बस स्टैंड पर एसडीएम एमएल मालवीय, एसडीओपी श्रीमती बबिता बामनिया, टीआई दिनेश शर्मा, नपं अध्यक्ष मनोहरलाल भटेवरा व पूर्व पार्षद राकेश मांडोत ने राधा-कृष्ण की महाआरती उतारी। विजेता टीम के साथियों को संयुक्त रूप से राधाकृष्ण और पुराना नाका मित्र मण्डल के सदस्यगणो ने ईनाम राशि भेंट की। इस पूरे आयोजन में पुलिस और प्रशासन का सराहनीय सहयोग रहा। खुद टीआई दिनेश शर्मा दल-बल के साथ भीड़ में सुरक्षा व्यवस्था में लगे रहे। उनके साथ एसआई उषा अलावा, सूबेदार कमल निंदल, एसआई दिव्य ज्योति सहित अन्य पुलिसकर्मी पूरी रात अपनी पैनी नजर बनाए रखे।
दोनो प्रमुख स्थानो पर टोलियां लगाती रही जुगत-
पुराना बस स्टेंड पर स्वर्गीय घमोला की स्मृति में राधा कृष्ण और पुराना नाका मित्र मंडल ने लगातार 15 वें वर्ष में मटकी फोड़ का आयोजन रखा। इधर..कृष्ण मित्र मंडल ने भी मटकी फोड़ का आयोजन किया। दोनो प्रमुख स्थानो पर मटकी फोडक़र इनाम जीतने के लिए ग्रामीण ईलाको से आई सेमलिया, नारंदा, तारखेड़ी, पंथबोराली, पेटलावद जयस ग्रुप की टीम ने हिस्सा लिया। रात साढ़े 12 बजे से यहां मटकी फोडऩे के लिए टीमों ने प्रयास शुरू किए। पुराना बस स्टैंड पर करीब 31 फुट ऊंचाई पर बंधी मटकी को देर रात 1 बजे के करीब उतारी गई। वही नया बस स्टैंड पर साढ़े 12 बजे मटकी उतारी गई। मटकी चार स्टेप (पाली) में उतारी गई। उल्लैखनीय है कि पुराना बस स्टैंड पर नगर की सबसे ऊंची मटकी बांधी जाती है। इस बार भी मटकी ऊंची बंधी थी। पहली पाली में ईनामी राशि ५ हजार 555 रूपए थी। मटकी फोडऩे ग्रामीण अंचलो से आई टीमो के कई प्रयासो से नही फूट सकी। जिसके बाद चौथी पाली में मटकी को नीचे किया गया। जिसे पंथ बोराली के गवालों की टीम ने फोडक़र ईनामी राशि पर कब्जा किया।