नायलॉन एवं चायना के धागों का इस्तेमाल ना करने की अपील

झाबुआ, हमारे प्रतिनिधिः रोटरेक्ट क्लब झाबुआ द्वारा मकर सक्रांति पर्व की शहरवासियों की बधाई देते हुए कहा है कि वे इस पर्व को पूरे आनंद एवं उत्साह के साथ मनाए। इस दिन पतंग उड़ाने का लुत्फ उठाने के साथ ही गिल्ली-डंडों का भी जमकर आनंद ले। साथ ही यह अपील की है कि पतंगे उड़ाने में सुत के धागे का ही प्रयोग करे, नायलॉन एवं चायना के धागों का इस्तेमाल ना करे।

रोटरेक्ट क्लब सभापति नीरजसिंह राठौर, पूर्व अध्यक्ष मनोज भानपुरिया, अध्यक्ष रिंकू रूनवाल, सचिव मनीष राठौड़, राकेश सोनावा आदि ने बताया कि पतंग उड़ाने के दौरान नायलॉन एवं चायना के धागों का उपयोग करने से यह जहां मनुष्य के लिए वहीं पशु-पक्षियों के लिए भी हानिकारक है। पतंग उड़ाने के दौरान नायलॉन एवं चायना के डोर से हाथ की उंगलियां कट सकती है वहीं यह धागा पतंग उड़ाने के बाद छत या जमीन पर फेंकने पर पशु-पक्षी इसे खाकर बीमार भी पड़ सकते है।

जमीन एवं छतों पर पक्षियों के विचरण के दौरान प्रायः यह देखा गया है कि पक्षी भोजन के चक्कर में धागों से लपट जाने के कारण उनकी जान जाने की भी संभावना रहती है। जिसे देखते हुए रोटरेक्ट क्लब द्वारा शहरवासियों से पतंग उड़ाने में सुत के डोर का ही उपयोग करने का आग्रह किया गया है।