झाबुआ live की खबर का असर हुआ : प्रभावित परिवारों से मिलने सांसद गुमानसिंह डामोर ग्राम रन्नी-भामल पहुंचे; “कहा कि मैं किसानों के साथ किसी भी तरह का अन्याय नहीं होने दूंगा”

0
906

अर्पित चोपड़ा@खवासा

क्षेत्र से गुजर रहे दिल्ली मुंबई 8 लेन नेशनल हाइवे के कारण सैकड़ों आदिवासी किसानों की रोजी रोटी पर संकट खड़ा हो गया है। आदिवासी किसान अपनी जगह के एवज में मिलने वाले मुआवजे के लिए दर दर भटक रहे है। किन्तु उन्हें कही से भी संतोषजनक जवाब नहीं मिल रहा है बल्कि रोड निर्माण कंपनी के ठेकेदार अशिक्षित आदिवासियों को धमका रहे है । इस संबंध में पिछले दिनों झाबुआ live ने समाचार प्रकाशित कर प्रभावित आदिवासी किसानों की समस्या को प्रमुखता से उठाया था । झाबुआ live की उक्त खबर का असर हुआ और समाचार प्रकाशन के बाद आज प्रभावित परिवारों से मिलने सांसद गुमानसिंह डामोर थांदला विधानसभा के ग्राम रन्नी एवं भामल पहुंचे और सभी प्रभावित किसानों की समस्या को सुनते हुए उनकी समस्या का उचित समाधान करवाने का आश्वासन दिया । सांसद डामोर ने कहा कि मैं किसानों के साथ किसी भी तरह का अन्याय नहीं होने दूंगा । डामोर ने किसानों की समस्या को लेकर भारत सरकार के परिवहन मंत्री से मुलाकात करने एवं तब तक कलेक्टर झाबुआ को बोलकर काम रुकवाने का आश्वासन दिया । सांसद डामोर के साथ पूर्व विधायक कलसिंह भाबर, जनजाति विकास मंच के विभाग प्रमुख कैलाश अमलियार, भाजपा जिलाध्यक्ष ओम शर्मा, प्रफुल्ल बाफना, युवा नेता संजय भाबर, भूपेश सिंगोड़, लक्ष्मण कटारा, राजू गरवाल, बंटी दरबोडिया, संजय परमार, लीला बेन आदि उपस्थित थे । युवा नेता संजय भाबर ने बताया कि भूमि अधिग्रहण में भारी अनियमितता की गई है । कई भूमियों के सिंचित होने के बाद भी असिंचित बता कर मुवावजा कम दिया जा रहा वहीं वर्षों से खेती कर रहे किसानों की जमीनों को सरकारी बता कर उन्हें मुआवजा तक नहीं दिया जा रहा । हम किसानों के साथ है और उनके साथ किसी भी तरह का अन्याय नहीं होने देंगे । इन्हीं बातों को लेकर कलेक्टर के नाम सांसद महोदय को ज्ञापन भी सौपा गया है।

 

)

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here