कैसे झाबुआ की कथित क्राइम ब्रांच के फंदे से बच गया कल्याणपुरा थाना क्षेत्र का श्यामू ?

0
4546
नवनीत त्रिवेदी @ झाबुआ
झाबुआ पुलिस की कथित क्राइम ब्रांच की तिकड़ी के पंजे में फंसा कल्याणपुरा थाना क्षेत्र का श्यामू आखिरकार 5 घंटे की हिरासत के बाद कानूनी कारवाई से बच निकला .. दरअसल शनिवार को झाबुआ जिले की कथित क्राइम ब्रांच ने भगोर के पास से श्यामू नामक एक शख्स को कथित 5 ग्राम नशीले पावडर के साथ धर दबोचा था और बचने के लिए ₹ 1 लाख रुपए की उससे डिमांड कथित क्राइम ब्रांच की तिकड़ी ने की लेकिन श्यामू ने यह मांग पूरी करने में असमर्थता जता दी .. तब कथित क्राइम ब्रांच उसे लेकर भयादोहन के उद्देश्य से झाबुआ कोतवाली ले आई.. तब श्यामू को लगा कि अब तो उसे जेल की हवा खानी ही पड़ेगी .. तब जाकर श्यामू लेनदेन पर राजी हुआ ओर कथित क्राइम ब्रांच की तिकड़ी उसे लेकर फिर कल्याणपुरा थाना क्षेत्र इलाके में ले गयी तब फिर बारगेनिंग के बाद मामला 30 हजार रूपये में सुलटा .. आपको बता दे कि कथित क्राइम ब्रांच श्यामू से कथित उगाही का संगठित अपराध एक बिना नंबर की बोलेरो के जरिए कर रही थी .. अब इसे विडंबना ही कहेंगे कि झाबुआ जिला उड़ता पंजाब बनता जा रहा है जिला मुख्यालय पर बीते कुछ सालों में 12 किशोर ओर युवकों की मौत ओर जिले में सैकड़ों युवाओं में नशे की लत के जिम्मेदार थानों एंव जिला मुख्यालय के ऐसे निचले पुलिसकर्मी ही है जो छोटी मछलियों का आर्थिक शिकार कर अपना घर तो भर रहे हैं लेकिन नौनिहालों ओर उनके परिवारों की बर्बादी की कीमत पर .. क्यों भूल जाते हैं ऐसे पुलिस वाले कि यह पैसा हजम नहीं होगा ओर पीढ़ियों को ऐसे पैसे कमाने का दंश भुगतना पड़ता है .. अब झाबुआ पुलिस कप्तान साहब चाहे तो उनके पास तो जिला मुख्यालय ओर अस्पताल के CCTV फुटेज मौजूद हैं देख ले शनिवार को बिना नंबर वाली बोलेरो की मूवमेंट ओर झाबुआ कोतवाली में अगर फ्रंट कैमरा चालू हो या रिकार्ड कर डिलिट ना किया गया हो तो वह भी एक सबुत है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here