बारिश की रिमझिम बौछारों ने किया जगन्नाथ रथ यात्रा का स्वागत

10झाबुआ। बारिश की रिमझिम फुहारों के बीच शनिवार शाम को शहर में जगन्नाथ रथ यात्रा निकाली गई। यह यात्रा जहां से निकली, वहां लोगों की दर्शन के लिए भीड़ लग गई। लोगांे ने जगह-जगह यात्रा का पुष्पवर्षा कर स्वागत किया। रथ में बैठकर भगवान जगन्नाथजी ने अपनी बहन सुभद्राजी के साथ शहर भ्रमण किया। रथ में बड़ी संख्या में शामिल महिलाओं एवं बालिकाओं द्वारा जगह-जगह नृत्य भी किया गया। रथ यात्रा शहर के काॅलेज मार्ग से शाम लगभग 4 बजे आरंभ हुई। यात्रा को रवाना कलेक्टर डाॅ. अरूणा गुप्ता द्वारा किया गया। इसमें सबसे आगे बैंड और ताशे बजाए जा रहे थ तो इसके पीछे छोटे-छोटे बच्चें मौज-मस्ती करते एवं नांचते-गाते हुए चल रहे थे। बैंड की धुन पर धार्मिक गीतांे एवं भजनों की प्रस्तुति दी जा रहीं थी। जिसकेे पीछे महिला एवं बालिकाओं का विशाल समूह चल रहा था। जिनके द्वारा जगह-जगह मार्गो एवं चैराहों पर नृत्य की प्रस्तुतियां दी गई।
कारपेट पर निकाला गया रथ
भगवान जगन्नाथजी के रथ को आयोजन समिति के सदस्य सहित अनेकांे श्रद्धालुजन खींचते हुए चल रहे थे एवं उनके द्वारा जय जगन्नाथजी के जयकारे लगाए जा रहे थे। रथ के आगे सफाई कर उस कारपेट बिछाया गया। कारपेट के उपर से रथ निकला। सुंदर एवं सुसज्जित रथ में भगवान जगन्नाथजी एवं बहन सुभद्रजी को विराजित किया गया। जगह-जगह समिति के सदस्यांे ने व्यवस्था संभाली एवं रथ यात्रा का सफल संचालन किया। समिति सदस्य विशेष वेशभूषा में सजे एवं गले में केशरिया दुपट्टा पहने थे।