विश्व आदिवासी दिवस के उपलक्ष्य में कृषि उपज मंडी प्रांगण में हुआ आयोजन

0
775

लोकेंद्र चाणोदिया, बामनिया

क्षेत्र में मंगलवार को विश्व आदिवासी दिवस उत्साह के साथ मनाया गया। बामनिया सेक्टर के अंतर्गत माही क्षेत्र, सारंगी, करवड़, गोदडिया, करनगढ़, मोईचारणी, गेहन्डी, काजलिया, छायन पश्चिम, रामपुरिया, अमरगढ़, मुल्थानीया, धुमड़िया, बिजनीपाड़ा, रतनपाड़ा, बोरपाडा आदि पंचायत क्षेत्र से बड़ी तादाद में ग्रामीण जन पारंपरिक वेशभूषा में नृत्य करते हुए मंडी प्रांगण पर एकत्रित हुए l

कार्यक्रम का शुभारंभ स्वतंत्रता सेनानी बिरसा मुंडा, जननायक टंट्या भील, संविधान निर्माता डॉ भीमराव अंबेडकर, जयपाल सिंह मुंडा, शूरवीर पुंजाभील व रानी दुर्गावती के तस्वीर पर माल्यार्पण क्षेत्र के अनिल निनामा, पिंटू भूरिया, छगन वसुनिया, हरिसिंह डामर, मीठालाल गरवाल, विकास गामड़, प्रकाश राणा, पूर्व मंडी उपाध्यक्ष नंदलाल गामड़, रामकन्या मखोड़ आदि सरपंच, जनपद सदस्य व जनप्रतिनिधियों द्वारा किया गया l सभा को डॉक्टर मनीष  सोलंकी,  मोतीलाल गामड़,  बालूसिंह  गामड़, कांतिलाल गरवाल, ईश्वर गरवाल, दशरथ बारिया, सचिन गामड़, खुशाल भाभर,  रोशन गरवाल, राजेंद्र डोडियार,  नानालाल गामड़, तोलसिेह डामर, दिनेश राणा व मातृशक्ति ज्योति बाला मुनिया, दीपिका मेडा, उषा सोलंकी, दुर्गा सिंगार आदि ने विश्व आदिवासी दिवस के उद्देश्य महत्व पर प्रकाश डाला तथा आदिवासी संस्कृति पर्यावरण की रक्षा जल जंगल जमीन के बारे में समझाया l

कार्यक्रम का संचालन संरक्षक प्रितमसिंह मुणिया एवं आकाश महासचिव बलवीर सिंह डावर ने किया। साथ ही शिक्षा, स्वास्थ व साक्षरता अभियान तथा वृक्षारोपण के महत्व पर प्रकाश डाला l उसके पश्चात रैली ढोल मांदल से नाचते हुए पारंपरिक वेशभूषा में मंडी प्रांगण से प्रारंभ होकर हाथों में तिरंगा लिए मंडी प्रागण से चौकीदार फलिया, नारेला रोड, पेटलावद रोड, अमरगढ़ रोड से स्वतंत्रता संग्राम सेनानी मामा बालेश्वर दयाल के समाधि स्थल पर जा कर मामाजी को श्रद्धासुमन व माल्यार्पण कर समापन हुआ। आभार समिति अध्यक्ष कपिल डामर व परमवीर मुणिया द्वारा व्यक्त किया गया l

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here