वित्तीय अनियतिमता बरतने के कारण 5 सरपंचो को धारा 40 के नोटिस

अलीराजपुर, एजेंसीः जिले के 05 ग्राम पंचायतों के सरपंचों द्वारा ग्रामीण विकास विभाग की विभिन्न योजनाओं में बिना कार्य के मूल्यांकन से अधिक राशि का आहरण कर व्यय किए जाने से विहित प्राधिकारी पंचायत राज स्वराज अधिनियम एवं अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) अलीराजपुर ने कारण बताओ सूचना पत्र जारी किए गए है।

कलेक्टर श्री शेखर वर्मा के निर्देशानुसार संबंधित मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायतों द्वारा ग्राम पंचायतों के अंतर्गत पंचपरमेश्वर, बीआरजीएफ, भारत निर्मल अभियान व सर्व शिक्षा अभियान आदि योजनाओं में आर्थिक अनियमितता की समिति से जांच कराई गई। जांच समिति द्वारा प्रस्तुत प्रतिवेदन अनुसार ग्राम पंचायत मालवई, खेरवड़, फाटा, चिचलगुड़ा एवं हरसवाट, के सरपंचों द्वारा पंचपरमेश्वर, बीआरजीएफ, भारत निर्मल अभियान व सर्वशिक्षा अभियान आदि योजनाओं में गंभीर आर्थिक अनियमितता की गई।

प्राप्त जानकारी अनुसार जनपद पंचायत अलीराजपुर अंतर्गत
ग्राम पंचायत मालवई की सरपंच श्रीमती नाथली पति झेंदरिया द्वारा कुल 22 लाख 55 हजार रूपए,
ग्राम पंचायत खेरवड की सरपंच श्रीमती मेरली पति राधू ने कुल 23 लाख 22 हजार रूपए,
ग्राम पंचायत फाटा की सरपंच श्रीमती रेलम बाई पति रमेश ने कुल 14 लाख 52 हजार रूपए,
ग्राम पंचायत चिचलगुड़ा के सरपंच श्री खुमसिंह पिता जुआन सिहं ने कुल 13 लाख 18 हजार रूपए तथा
ग्राम पंचायत हरसवाट के सरपंच ने कुल 11 लाख 11 हजार रूपए अधिक आहरण किया गया।

इस कारण विहित प्राधिकारी पंचायत राज स्वराज अधिनियम एवं अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) अलीराजपुर श्री एमएल कनेल ने गंभीर स्वरूप की अनियमिताए बरतने के कारण कृत्य म.प्र. पंचायत राज स्वराज अधिनियम 1993 की धारा 40 के अंतर्गत कारण बताओ सूचना पत्र जारी किए है।