बरझर में अभी नहीं बनेगा पुलिस थाना, सीएम ने बल की कमी का हवाला देकर वर्तमान में थाना बनाने से इनकार किया

0
507

Alirajpur live से ब्यूरो चीफ फिरोज खान बबलू की रिपोर्ट

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जोबट उप चुनाव के पहले रिगोल में मंच से जन समुदाय के सामने 15 सितम्बर 2021 को बरझर को पुलिस थाना बनाने की घोषणा की थी । जिसे 1 साल 10 दिन आज बीत गए । आज नगर परिषद के चुनाव प्रचार के दौरान विधायक सुलोचना रावत व पूर्व विधायक माधवसिंह डावर ने मंच पर मुख्यमंत्री के उद्बोधन के दौरान बरझर को थाना बनाने की बात की तो  शिवराज सिंह चौहान ने पुलिस कमीयों की कमी के चलते कहा की थाने में स्टाफ चाहिए । छः हजार जवानों की भर्ती सरकार कर रही है । उसके बाद पुलिस पदस्थ व तैनात कर थाना बनाने की बात कही ।‌‌

 

‌अब कब होगी सीएम की घोषणा पूरी‌

‌अब मुख्यमंत्री की साल भर पहले की  घौषणा जब पुलिस भर्ती होगी  उसके बाद बरझर थाना बनने की घोषणा पुरी होगी । जब तक 2023 विधानसभा सभा चुनाव सामने होंगे । यदी बरझर थाना विधानसभा चुनाव के आप पास है बनता है तो लाभ भी भाजपा को मिलेगा । यदी घौषणा पुरी नहीं होती है तो इसका असर भी विधानसभा चुनाव में भाजपा को देखने को मिल सकता है ।

‌चाटुकारी नेताओं की वजह से अधिकारी ज्यादा समय नहीं बिता पाते

बरझर पुलिस चौकी अक्सर बदमाशों , लूटेरों व शराब माफियाओं से जिले मे प्रख्यात है कुछ हद तक इस बरसात के मौषम में बदमाशों में कमी भी आई थी साथ ही शराब माफियाओं में भी डर भय का माहौल बन गया था ।  परन्तु पुलिस अधिकारी को क्षैत्र मे बदमाशो को समझ पाते चाटुकारिता नेताओं की शिकायत पर अधिकारियों की ही गाज गिर जाती । ऐसे में आने वाले पुलिस चौकी प्रभारी डर भय के चलते बड़ी कारवाई करने से भी संकोच करते नजर आते हैं ।‌‌

बरझर पुलिस चौकी पुलिस बल के लिए झुझ रही

‌बरझर पुलिस चौकी में फिर हाल चाल का पुलिस बल है । चार के बल में से एक जवान प्रेड में आलीराजपुर गये चार दिन हो गये   बचा मात्र तीन का बल ऐसे में बरझर का पुलिस बल करें तो क्या करें ।‌

पुलिस अधीक्षक‌ ने चार का बल बढ़ाया , एक पहुचा – तीन किधर

आलीराजपुर पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार ने 24 अगस्त को बरझर पुलिस चौकी के लिए चार पुलिस जवान का बल बढ़ाने के आदेश दिए । उन आदेश का पालन मात्र एक जवान ने किया । तीन  पुलिस जवान ने आज तक आमद नहीं दी । जिसकी एक सप्ताह में आमद देनी होती है । परन्तु बरझर पुलिस चौकी में आमद अब तक नहीं हुई क्यों नहीं हुई ये विभागीय अधिकारियों ही जाने । परन्तु बरझर पुलिस चौकी प्रभारी तो स्टाप की कमीॅ तो महसूस कर रहै होंगे पर बरझर के ग्रामीण डर-भय की जिंदगी जीने को मजबूर है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here