पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर कांग्रेसियों ने दी श्रद्धांजलि

0
75

झाबुआ 21 मई देश के पूर्व प्रधानमंत्री एवं सूचना कां्रति के प्रणेता भारत रत्न स्वर्गीय राजीवगांधी की 28वीं पुण्यतिथि 21 मई मंगलवार को स्थानीय जिला कांग्रेस कमेटी कार्यालय पर प्रात: 11.:30 बजे से मनाई । इस अवसर पर पूर्व विधायक जेवियर मेडा ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष हेमचन्द डामोर प्रवक्ता हर्ष भट्ट सहित उपस्थित कांग्रेस जनो ने राजीव गंाधी के चित्र पर माल्यार्पण कर एवं दीप जला कर अपनी-अपनी श्रद्धांजली अर्पित की। इस अवसर पर सभा को सम्बोधित करते हुए पूर्व विधायक जेवियर मेडा कहा कि राजीव जी के देश के महान नेता में से एक नेता सूचना क्रांति के प्रणेता एवं भारत के आधुनिक निर्माण के स्तंभ थे। उन्होंने देश की सेवा करते हुए अपना बलिदान कर दिया हमे उनके बताये रास्तों पर चलकर नवीन राष्ट्र के निर्माण में सहयोग करने की आवश्यकता है इस अवसर पर ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष हेमचन्द डामोर सम्बोधित करते हुए कहा की राजीव गांधी हमेशा देश के गरीब वर्ग एवं आदिवासीयों के उत्थान हेतु हमेशा कार्य करते थे उन्होंने अपने कार्यकाल के दौरान झाबुआ जिले का भी दौरा किया था तथा क्षेत्र के विकास हेतु अनेक योजना बना कर उसे क्रियान्वित भी किया। हमे उनसे प्रेरणा लेकर अधुनिक राष्ट्र का विकास करना होगा। इस अवसर पर कांग्रेस नेता शंकरसिंह भूरिया, पूर्व पार्षद अविनाश डोडियार, सुनील भूरिया, रविन्द्रसिंह चौहान, खीमा भाई, खुमान संरपच, वरदेसिंह खराडी जवाभाई सरपंच, कलजी भाई बापू उपसरपंच साहित अनेक कार्यकर्ता उपस्थित थे।

कांग्रेसियों राजीव जी की 28वीं पुण्यतिथि पर उन्हें स्मरण किया गया
झाबुआ 21 मई भारत रत्न एवं सूचना कां्रति के जनक स्वर्गीय राजीव गांधी की 28वीं पुण्यतिथि 21 मई को दोपहर 3 बजे स्थानीय गोपाल कालोनी स्थित सांसद कार्यालय पर मनाई गई। इस अवसर पर उपस्थित कांग्रेस जनो ने राजीव गंाधी के चित्र पर माल्यार्पण कर एवं दीप जला कर अपनी-अपनी पुश्पांजली अर्पीत की इस अवसर पर वरिष्ट कांगे्रसियों द्वारा 2 मिनट मौन रखकर उन्हें श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर वरिष्ट कांगे्रस नेता रमेश डोशी, जिला कांगे्रस अध्यक्ष निर्मल मेहता, कोषाध्यक्ष प्रकाश राका, प्रवक्ता हर्ष भट्ट, साबिर फिटवेल, कांग्रेस नेता गुरूप्रसाद अरोरा, राजेश भट्ट, विरेंन्द्र मोदी, विजय पांडे, सुरेश समीर, रशीद कुरैशी, जितेन्द्र शाह एवं कुरैशी आदि उपस्थित थे।
)