रायपुरिया की यातायात व्यवस्था बदहाल,ठोस इंतजाम पर लग जाती है राजनीतिक नजर

0
522

 रायपुरिया@ लवेश स्वर्णकार 

रायपुरिया में यातायात व्यवस्थाए प्रशासन पर भारी पड़ रही है यहां आलम यह है कि ग्राम के मुख्य मार्ग झाबुआ चौराहे, जामली रोड पर पल-पल में जाम लग जाता है। दरअसल एमपीआरडीसी ने यहां चौड़ी सड़क बनाई है पर इस सड़क पर ठेले और वाहनों का कब्जा रहता है राहगीरों को इस मार्ग से गुजरने के दौरान कई तरह की समस्याओं का सामना करना पडता है। ऐसा नही की इस अवव्यस्था को दुरस्त करने के प्रयास नही हुए हो कई बार पुलिस ने व्यवस्था को दुरस्त करने के प्रयास किए है कार्रवाही भी की है पर पुलिस ने जब जब भी यहां व्यबस्थाओ को सुधारने के लिए अभियान चलाए तब तब यहाँ राजनीतिक नजर भी लगी बदहाल व्यवस्था को ठीक करना यहां के राजनेताओं को रास ही नही आता उन्हें अपने राजनीतिक और व्यापारिक फायदे नजर आने लग जाते है ।

पूर्व टी आई तेजमल पंवार ने रायपुरिया की यातायात व्यवस्था को सुधारने के लिए शांति समिति की बैठक में आए सुझाव को अमल में लाकर चौराहे की यातायात व्यवस्था को सुधारने और लोगो को जागरूक बनाने के लिए प्रभावी कार्रवाही गौरतलब है उस कार्रवाही को भी राजनीतिक नजर लग गई झाबुआ से लेकर भोपाल तक शिकवा शिकायते अंत मे वह प्रभावी कार्यवाही भी फुस्स हो गई थी पुलिस जब जब भी यातायात व्यवस्था को सुधारने वाहनों की सख्त चेकिंग का अभियान चलाने की कार्यवाही करती है वहा भी राजनीतिक नजर हावी हो जाती है ऐसी राजनीतिक नजरो के कारण यहां की यातायात व्यवस्था बदहाल ही बनी रहती है और इस सब के बीच डामर की बनी चौड़ी सड़क रात में तो चौड़ी दिखती पर दिन में संकरी होती चली जाती है पल पल जाम लगता है लोग वाहन चालक दुकानदार सब दिक्क्क्त उठाने को मजबूर रहते है । चार पहिया हो या दो पहिया वाहन चालक सड़को पर ही वाहन को पार्क कर देते है । पुलिस तथा प्रशासन से जनता हर बार इस अव्यवस्था को दूर करने की उम्मीद लगाती है ठोस कार्रवाही की मांग भी शांति समिति में करती है लेकिन क्या इस बार राजनीतिक नजरो को नजरअंदाज कर पुलिस यातायात व्यवस्था ओ को दुरस्त करेगी या स्थति वही बनी रहेगी यह देखने वाली बात होगी ।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here