सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में दस्तक अभियान में बोली जनपद अध्यक्ष सुशीला पे्रम भाबर : बच्चों का बेहतर स्वास्थ हमारा नैतिक दायित्व

0
91

भूपेंद्र बरमंडलिया, मेघनगर

ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में बच्चों के बेहतर स्वास्थ्य के लिए मध्यप्रदेश के प्रत्येक गांव कस्बों में 10 जून से 20 जुलाई तक लोक स्वास्थ्य परिवार कल्याण एवं महिला बाल विकास विभाग द्वारा दस्तक अभियान की शुरुआत की गई। दस्तक अभियान में आंगनवाड़ी आशा कार्यकर्ता घर-घर जाकर 5 वर्ष से कम उम्र के बच्चों में प्रमुख बाल्यकालीन बीमारियों के सामुदायिक स्तर पर सक्रिय पहचान कर उनका त्वरित प्रबंधन करेंगे जिससे बाल मृत्यु दर में प्रभावी कमी लाई जा सके। आधिकारिक जानकारी के अनुसार ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर डॉ सेलक्षी वर्मा के अनुसार अभियान में मुख्य तौर पर समुदाय में बीमार बच्चों ओर नवजात की पहचान, प्रबंधन एवं रेफरल शेशव एवं बाल्यकालीन नमोनिया की पहचान प्रबंधन कुपोषित बच्चों को पहचानना तथा उपचार के लिए एनआरसी भेजनाए बाल्यकालीन दस्त रोग, नियंत्रण के लिए ओआरएस एवं जिंक के लिए उपयोग के संबंध में जागरूकता विटामिन ए का अनुपूरण, 9 माह से अधिक 5 वर्ष तक के बच्चों ने दिखाई देने वाली जन्मजात विकृतियां शिशु एवं बाल आहार उड़ती संबंधी समझाइश देना आदि गतिविधियां दस्तक अभियान में दल गांव जाकर घर-घर करेगा। उक्त दस्तक आयोजन के शुभारंभ के अवसर पर इस अवसर पर भारतीय जनता पार्टी महिला मोर्चा के जिलाध्यक्ष आरती भानपुरिया,मेघनगर जनपद अध्यक्षा सुशीला प्रेम सिंह भाबर, ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर डॉक्टर सेलक्षी वर्मा एवं बीसीएम किरण पाटीदार सहित अन्य आशा कार्यकर्ता एवं नर्स स्टाफ उपस्थित रहा।
)