शिक्षक रमण लाल जाटव के हृदयाघात निधन से शोक की लहर

0
636

 भूपेंद्र बरमण्डलिया@ मेघनगर

गुरु कुम्हार शिष्य कुंभ है घड़ी घड़ी काठे खोट अंतर हाथ सहार दे बाहर बाहे चोट.. हमेशा ग्रामीण बच्चों की सेवा पर तत्पर रहने वाले निवासी रंभापुर हेड मास्टर रमण लाल जाटव का लगभग 55 वर्ष की उम्र में बुधवार को आकस्मिक निधन हो गया। रमण लाल शासकीय माध्यमिक विद्यालय तीतरीया में वर्तमान में पदस्थ थे।ग्रामीण अंचलों में जाटव अपनी सेवाएं बच्चों की तकदीर और तस्वीर बदलने के लिए देते रहे हैं। उनके अचानक निधन हो जाने से ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र में शोक की लहर छाई हुई है। शिक्षको सहित ग्रामीण जनो के अलावा रंभापुर व मेघनगर के पत्रकार संघ साथ ही भारतीय पत्रकार संघ द्वारा भी शोक सवेदना व्यक्त की गई , तथा उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। तथा ग्रामीण अंचल में शिक्षा का अलख जगाने वाले गुरु की कमी हमेशा रहेगी , भगवान इस दुख की घड़ी में परिवार को ढांढस बधा ये ओर प्रभु श्री चरणों मे उन्हें स्थान दे।

 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here