चिराग तले अंधेरा , ग्रिड के 100 मीटर दूर इस गांव का ट्रांसफार्मर 24 दिन से है खराब , अंधेरे मे रहने को मजबूर ग्रामीण

0
174

गोपाल राठौड़ @ कट्ठीवाड़ा

चिराग तले अंधेरा यह कहावत कठिवाडा से महज एक किलोमीटर दुरी पर ग्राम इन्दलावाट के पुजारा फलियाँ मे चरितार्थ होती हैं। इन घरों के पास 33 केवी ग्रिड बना है। जो पूरे इलाके मे सप्लाई यहा से होती हे लेकिन यहा अधिकारियों कि लापरवाही के कारण इन्हें अंधेरे मे रहना पड रहा है। इस फलिए मे लगभग 40 मकान भी हैं जहा ट्रांस्फार्म जलने से विगत 24 दिन से ब्लैक आउट कि स्थिति बनी हुई हैं ओर दिलचस्प बात यह हे की यह ट्रांस्फार्म खराब हुआ हे वह 33 केवी ग्रिड से केवल 100 मिटर कि दूरी पर हे जिसे विधुत वितरण कम्पनी के अधिकारी ओर कर्मचारियों की लापरवाही को उजागर करता है। ग्रामीणों का कहना हे की ट्रांस्फार्म खराब होने कि सुचना हमने कर्मचारी को दि थी इसके बाद वह आए भी ओर सभी फलिए के लोगों ने चन्दा एकत्रित कर 2000 रुपये मे विभाग मे अटेच वाहन को किराया देकर निजी खर्चे से ट्रांस्फार्म को अलीराजपुर लेजाया गया ओर वहा से दुसरा ट्रांस्फार्म दिया गया जो यहा लाने के बाद दिन भर मसकत के बाद भी बिजली नही चली पैसे ओर समय दोनों की बर्बादी से ग्रामीण परेशान हे ग्रामीणों का कहना हे की बिल भी हम भर चुके हे । बारिश का मौसम हे खाद्य बिज मे भी पैसा लग गया अब हमारी स्थिति नही हे की हम ओर पैसे खर्च कर ट्रांस्फार्म को अलीराजपुर वापस लेने जा सके । दुरसिग नारलिया का कहना हे की मेने अलीराजपुर ऑफिस मे काल किया था जहाँ पर कोई सन्तुष्ट जनक जवाब नही मिला। रमेश पिता नन्दला ने भी पूर्व विधायक माधोसिग डावर को फोन किया था वहा से भी आश्वासन मिला मे अधिकारियों से बात करता हू। जब इस सम्बन्ध मे हमने जेई राजेन्द्र पटेल के मोबाइल नम्बर 8989984098 पर सुबह 10:10 मिनट पर सम्पर्क किया उन्होंने काल रिसिव नही की। अब आखिर ग्रामीण जाए तो किसके पास क्या इसी तरह आत्म निर्भर भारत का निर्माण होगा।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here