“सीएम” आये और चले गए, किसी को पता नही, इधर…जनसभा पहुंचे गिनती के लोग…

0
2728

सलमान शैख़@ झाबुआ Live…
मप्र के सीएम कमलनाम ने बुधवार को झाबुआ जिले के पेटलावद में कांग्रेस के लोकसभा प्रत्याशी कांतिलाल भूरिया के समर्थन में कॉलेज ग्राउंड पर आयोजित चुनावी सभा को संबोधित किया, लेकिन सीएम आये और चले गए किसी को पता ही नही चला। इस सभा में आश्चर्यजनक बात यह रही कि सभा में गिनती के ही लोग नजर आए। जिससे साफ जाहिर हो रहा था कि कहीं न कहीं कांग्रेसी कार्यकर्ताओ ने सीएम के कार्यक्रम का प्रचार-प्रसार नही किया।जिसका नतीजा यह निकला कि महिलाओ की जगह को पुरूषो ने बैठकर भरा।
ये देख कार्यक्रम के संयोजकों के पसीने छूटने लगे। सीएम के सामने बेइज्जती होते देख आनन-फानन में संयोजकों ने कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को बुलाना शुरू किया। इसके बाद लोगो की जगह कार्यकर्ताओं ने ली। हालांकि, सभास्थल की तस्वीरें देख सीएम भी नाखुश दिखे और जल्दी भाषण देकर एलिपेड के लिए रवाना हो गए। इसे लेकर में तरह-तरह की चर्चा चलती रही।
इसका एक बड़ा कारण यह भी रहा कि शासन-प्रशासन को यह डर था कि कहीं सीएम के कार्यक्रम में कोई बड़ा बबाल न हो जाये, कोई ऐसी आश्चर्यजनक घटना न हो जाये जिससे सीएम की सभा प्रभावित हो इसके लिए चाक-चौबंद व्यवस्था देखी गई। सभास्थल पर जो भी महिलाएं या पुरुष काले गमझे पहनकर आये उनसे गमझे उतर वा लिए गए। वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक किसानों द्वारा भी आंदोलन होना था, लेकिन प्रशासन ने इसे कामयाब नही होने दिया।
अब पीएम मोदी को आराम करना चाहिए-
अपने लगभग 15 मिनट के भाषण में कमलनाथ ने मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होने पीएम की किसान पेंशन योजना पर तंज कसते हुए इसे हास्यास्पद बताया है और कहा कि यह किसानो के अपमान के अलावा कुछ नही है। अब तस्वीर आप सबके सामने है, भाजपा बड़े व्यापारी, उद्योगपति के बारे में सोचते हैं, कांग्रेस आम लोगों के बारे में सोचती है।
उन्होने प्रधानमंत्री पर तंज कसते हुए कहा कि उन्हें अब आराम करना चाहिए।
कमलनाथ ने कहा किसान ऋण के बोझ तले पैदा होता है और उसकी मौत भी ऋण के बोझ से ही होती है। हमने किसानो को कछ राहत देने की कोशिश की है, 2 लाख तक का ऋण माफ किया है। झाबुआ जिले के पेटलावद कृषि क्षैत्र में निरंतर उपलब्धी कमा रहा है। हम कृषि क्षैत्र में यहां के किसान को फायदा मिले और उसकी स्थिति मजबूत हो, इसके लिए बेहतर नीति बनाएंगे।
*मीडिया से बोले सीएम कमलनाथ, पेटलावद ब्लास्ट की कराएंगे दोबारा जांच-*
सभा के समापन के बाद सीएम कमलनाथ मीडिया से रूबरू हुए। यहां मीडिया द्वारा पूछे गए ब्लास्ट मामले के सवाल पर सीएम ने कहा बड़े दुख के साथ कहना पड़ता है कि पेटलावद ब्लास्ट की जांच में सच्चाई को दबाया गया है। उनका इशारा ब्लास्ट के मुख्य आरोपी राजेंद्र कांसवा के भाजपा से जुड़े होने के आरोपो को लेकर था। उन्होनें मीडिया से कहा कि इस मामले की जांच फिर से कराई जाएगी। इससे पहले उन्होनें श्रद्धांजली चौक पर पहुचकर 12 सितंबर 2015 को हुए विस्फोट में दिवंगतो को श्रद्धांजली अर्पित की।