“लव जिहाद”, नाम बदलकर शादी, एक करोड़ रूपए ठग लिए, आरोपी गिरफ्तार

झाबुआ, एजेंसीः लव जेहाद और धोखाधड़ी के आरोप में गुजरात पुलिस ने एक व्‍यक्ति इमरान को गिरफ्तार कर लिया है। युवक पर आरोप है कि उसने वलसाड़ में एक लड़की से धोखाधड़ी कर शादी की और 1 करोड़ रुपये की ठगी भी की। इमरान के घर की तलाशी में उसके नाम का पासपोर्ट मिला, जिसे पूलिस ने जब्‍त कर लिया। मेघनगर के सेलानीपुरा स्थित घर की तलाशी के बाद आरोपी को वलसाड़ पुलिस साथ ले गई।

स्थानीय मीडिया के मुताबिक इमरान उर्फ देवेंद्र मेघनगर का रहने वाला है। उसे 30 दिसंबर को गोधरा रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार किया गया। शिकायत के अनुसार इमरान ने अपना नाम देवेंद्र सिंह पुत्र नरेंद्र सिंह बताकर धोखे से शादी की। आरोपी ने पहले से पत्नी और बच्चे होने की बात भी छिपाकर रखी।

वलसाड़ के स्कूल की शिक्षिका ने इमरान के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। उसने बताया कि 2009 में उसकी इमरान से उसकी जान पहचान हुई थी। उसने अपना नाम देवेंद्र सिंह पुत्र नरेंद्र सिंह राठौड़ बताया था। जब इमरान को यह पता चला कि वह रिटायर्ड रेलवे अधिकारी की बेटी है और परिवार के पास लाखों की प्रॉपर्टी है तो उसने प्रेमजाल में फंसा लिया। इमरान ने विवाह का प्रस्ताव रखा और परिजन को बताया कि वह पुणे से एमबीए कर रहा है।

फिलहाल भोपाल में एक फाइनेंस कंपनी में नौकरी है। 6 दिसंबर 2009 को शादी की तारीख तय हुई, लेकिन शादी के लिए इमरान बिना बारात के अकेले पहुंचा। उसने बताया कि उसकी दादी का निधन हो गया और ऐसे में बारात में कोई नहीं आ सकता।

डेढ़ महीने तक घर वाले बाहर नहीं निकलेंगे और एक साल तक पत्नी को भी घर नहीं ले जा सकता।

घर वाले झांसे में आ गए और शादी हो गई:

इसके बाद से एक साल तक उसने कई बार व्यापार-धंधा शुरू करने के लिए पैसे लिए। लगभग 72 लाख रुपये और 25-30 लाख के सोने-चांदी के आभूषण उसने ठग लिए। पता चला कि उसकी पहले से एक पत्नी मेघनगर में है और दो बच्चे भी हैं।