मोमबत्तियां प्रज्जवलित कर रखा गया दो मिनट का मोन

मोमबत्तियां प्रज्जवलित कर मृतको को श्रद्धांजलि देते नागरिक।
मोमबत्तियां प्रज्जवलित कर मृतको को श्रद्धांजलि देते नागरिक।

झाबुआ डेस्क- आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट झाबुआ द्वारा स्थानीय राजवाड़ा चोक पर रविवार रात श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया, जिसमें शहर की विभिन्न संस्थाओं द्वारा सहभागिता कर संयुक्त रूप से जिले के पेटलावद में हुई ब्लाॅस्टिंग घटना मे मृत हुए लोगों, पवित्र स्थल मक्का के पास मीना शहर में भगदड़ मचने से 1200 से अधिक लोगों की मृत्यु होने पर, तुर्की में हुए आतंकी हमले मे मारे गए लोगों के साथ बीते दिनों ग्राम देवझिरी में बस पलटने से एक बालिका की मृत्यु होने पर सभी को मोमबत्तियां प्रज्जवलित कर एवं दो मिनट का मोन रखकर श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इसके साथ ही इस अवसर पर प्रसिद्ध गीतकार एवं प्रसिद्ध भजन गायक रविन्द्र जैन को भी श्रद्धांजलि दी गई।
श्रद्धांजलि सभा का संचालन करते हुए ट्रस्ट के सचिव एवं सकल व्यापारी संघ अध्यक्ष नीरजसिंह राठोर ने बताया कि पेटलावद ब्लाॅस्ट मंे 90 से अधिक लोगों को अपनी जान गंवाना पड़ी। इसमंे कई बच्चों की भी मृत्यु हो गई। यह जिले के लिए एक अत्यंत दुखद घटना के साथ अविस्मरणीय घटना है। जिससे पूरा जिला शोक स्तब्ध है। इसके साथ ही मक्का के मीना शहर में 1200 से अधिक लोगो की मृत्यु होना भी देश के लिए एक अत्यंत दुख देने वाली घटना है। जिसे भी कभी भूलाया नहीं जा सकता है। तुर्की देष में हुए आतंकी हमले में भी कई लोगों की दर्दनाक मृत्यु हो गई। ह्दय विदारक घटना देवझिरी में बस पलटने से एक गंभीर घायल बालिका को इंदौर ले जाते समय उसकी मृत्यु हो गई। मासूस बच्ची ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। इस सभी घटनाओं में मृतकों को आज हम सच्ची श्रद्धांजलि अर्पित कर रहे है। सभा को संबोधित करते अखिल भारतीय साहित्य परिषद् के जिलाध्यक्ष डाॅ. केके त्रिवेदी ने भी इन सभी घटना में मृतकों को भावभीनी श्रद्धांजलि दी ।
ये थे उपस्थित – श्रद्धांजलि सभा में यशवंत भंडारी, राजेश नागर, वीरेन्द्रसिंह ठाकुर, सुधीर कुश्वाह, रविराजसिंह राठोर, राजेन्द्र सोनी, पं. द्विजेन्द्र व्यास, इंदरसेन संघवी, राधेश्याम पटेल, विष्णु व्यास, शरत शास्त्री, ओम शर्मा, राकेश परमार, धर्मेन्द्र मालवीय, ओमप्रकाश शर्मा, जेमिनी शुक्ला, भेरूसिंह तरंग, गणेशप्रसाद उपाध्याय, पीडी रायपुरिया, अर्चना राठोर, जवाहरसिंह, अग्रवाल समाज से बाबूलाल अग्रवाल, प्रदीप रूनवाल, अजय रामावत, रिंकू रूनवाल, दोलत गोलानी, दर्पण भाटी, महेश कोठारी, अजय पंवार उपस्थित थे।
मुस्लिम समाज ने भी की सहभागिता – श्रद्धांजलि सभा में मुस्लिम समाजजनो ने भी सहभागिता की। मुस्लिम समाज से खलील मंसूरी, अशरफभाई, साहित्यकार एजाज नाजी धारवी, अब्दुल रहीम अब्बु दादा, लतीफभाई आदि ने भी शामिल होकर मृतात्माओं को श्रद्धांजलि दी। सभा पश्चात उपस्थितो द्वारा मंच पर बैनर के सामने मोमबत्तियां प्रज्जवलित की गई। अंत में मृतात्माओ की शांति के लिए दो मिनट का मोन रखा गया।