भाजपा नेताओं ने किया गया आचार संहिता का उल्लंघन

thandla2झाबुआ डेस्क। भाजपा द्वारा संसदीय क्षेत्र मे आगामी लोकसभा उपचुनाव के मद्देेनजर आचार संहिता लागु हो गई है। भाजपा द्वारा 22 अक्टूबर को प्रिंट मीडिया में प्रकाशित विज्ञापन में भाजपा नेताओ के फोटो छपवाकर भागवत कथा का आयोजन कर तथा कलश यात्रा के भाजपा नेताओं की सक्रिय भूमिका बताते हुए इसे आचार संहिता का खुला उल्लंघन बताया है। भागवत कथा मे शामिल महिलाओ को भाजपा नेताओ द्वारा साड़ियां एवं कलश का वितरण भी किया गया तथा उन्हें लाने व लेजाने की व्यवस्था भाजपा नेताओं द्वारा की गई है। साथ ही भोजन व अन्य तरह की व्यवस्था भी भाजपा नेताओं द्वारा की जा रही है। वर्तमान पेटलावद विधायिका निर्मला भूरिया भी पूरी यात्रा में साध्वी मां कनकेश्वरी देवी के साथ रहकर सक्रिय रही है। वही पर भाजपा के लगे पोस्टर व होर्डिंग्स को नेताओं द्वारा नहीं हटवाया गया। उक्त आरोप जिला कांग्रेस अध्यक्ष निर्मल मेहता, कार्यवाहक अध्यक्ष कलावती भूरिया, विक्रांत भूरिया, जिला कांग्रेस महामंत्री सुरेश मूथा, ब्लाॅक कांग्रेस अध्यक्ष पेटलावद मन्नालाल हामड़, शहर कांग्रेस अध्यक्ष जीवन ठाकुर, ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष थांदला गेंदाल डामोर, बाबू काग, प्रभात श्रीवास्तव, पवन आदि ने लगाते हुए आज जिला निर्वाचन अधिकारी को पेटलावद एवं थांदला में भाजपा द्वारा किए गए आचार संहिता के उल्लंघन के संबंध में आपत्ति दर्ज करवाई।

निर्वाचन आयोग नई दिल्ली-भोपाल को भेजी रिपोर्ट
पेटलावद में भागवत कथा के नाम पर भाजपा द्वारा अपनी राजनैतिक रोटियां सेंकने का कार्य किया जा रहा है तथा इस कार्यक्रम में भाजना नेताओं द्वारा बडी मात्रा में धन भी खर्च किया जा रहा है। जिसका हिसाब-किताब मिलना मुश्किल है। इस कथा के माध्यम से भाजपा अपने द्वारा किए गए जनता से वादों को पुरा ना कर पाने में एवं पेटलावद ब्लास्ट में अपनी लापरवाही को छीपा कर जनता को गुमराह करने का प्रयास कर रही है। वहीं पेटलावद ब्लास्ट के परिवारों के आंसू पोछने की बजाय उनके नाम पर अपनी राजनैतिक रोटियां संेकने का ही क्रत्य है जो ना तो न्याय संगत है और न ही तर्क संगत। इसी तरह थांदला नगर में प्रशासन द्वारा आचार संहिता के चलते नगर में लगे भाजपा जनप्रतिनिधियों के होर्डिंग व बेनर नहीं हटाए गए, सिर्फ इक्का-दुक्का पोस्टर हटाकर शासन द्वारा खानापूर्ति की जा रही है। गोरतलब है कि थांदला में भाजपा समर्थित परिषद है तथा नगर मे जिले का सबसे बडा विजयादशमी का मेले का आयोजन भी थांदला नगर में चल रहा था। जिसके चलते भाजपा नेताओ ने कई बडे-बडे होर्डिंग्स लगाये थे। जिला कांग्रेस ने इसे गंभीरता से लेते हुए सत्तारूढ भाजपा द्वारा सत्ता का दुरूपयोग करते हुए इसे आचार संहिता का खुला उल्लंघन बताया है तथा निर्वाचन से उपरोक्त बुथों पर लोकसभा उपनिर्वाचन के दौरान आचार संहिता के हो रहें उल्लंघन पर तत्काल कार्यवाही करने की मांग की है ताकि उपचुनाव निःपक्ष तरीके से संपन्न हो सके। इस संबंध में उन्होने पेपर कटिंग, फोटो एवं वीडियो रिर्काडिंग की सीडी भी निर्वाचन आयोग को सबूतों के तौर पर दी है। जिला कांग्रेस अध्यक्ष निर्मल मेहता ने बताया कि इस आचार सहिता उल्लंघन की विस्तृत रिपोर्ट प्रदेश कांग्रेस कमेटी भोपाल एवं अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी नई दिल्ली, निर्वाचन आयोग नई दिल्ली एवं निर्वाचन आयोग भोपाल को भी भेजी गई है।