बिहार में महागठबंधन की ऐतिहासिक जीत पर भूरिया ने दी बधाई

6झाबुआ। पूर्व केन्द्रीय मंत्री, आदिवासी नेता लोकसभा उपुचनाव के कांग्रेस प्रत्याशी कांतिलाल भूरिया ने बिहार विधानसभा चुनाव में महागठबंधन की ऐतिहासिक जीत पर अपनी ओर से हार्दिक बधाई दी है और कहा कि जनता के साथ विश्वासघात करने वालों की ऐसी ही दुर्गति होती है। भूरिया ने महागठबंधन की इस अभूतपूर्व जीत पर कांग्रेस की अध्यक्ष सोनिया गांधी, उपाध्यक्ष राहुल गांधी, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, राष्ट्रीय जनता दल अध्यक्ष लालूप्रसाद यादव को सफल रणनीति बनाने के लिए एवं भाजपा अध्यक्ष अमित शाह एवं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के अहंकार को नसीहत दी है। भूरिया ने आगे कहा कि बिहार विधानसभा के परिणामों ने भाजपा के पतन की शुरूआत कर दी है साथ ही आने वाले रतलाम-झाबुआ संसदीय उपचुनाव में भी भाजपा की पराजय को निश्चित कर दिया है। कांग्रेस नेता ने आगे कहा है कि मध्यप्रदेश के घोषणावीर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चोहान भाजपा के लिए प्रचार करने बिहार गये थे और वहां अपनी सभाओं में उन्होने खुब झुठ कहा। चोहान ने बिहार प्रचार में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा था कि मध्यप्रदेश के किसानों को 1200 रुपए प्रति वर्ष के भुगतान पर भरपूर बिजली दी जा रही है जबकि वस्तुस्थिति यह है कि ना तो किसानों को पर्याप्त बिजली मिल रही है वरन उन्हे हजारों रूपयों में बिल थमाए जा रहें है। भाजपा को इन तथाकथित नेताओं के द्वारा झूठ बोल कर जनता को गुमराह करने का परिणाम भाजपा की करारी हार के रूप में झेलना पड़ा है। बिहार चुनाव में महागठबंधन की इस ऐतिहासिक विजय पर गोपाल कालोनी स्थित कार्यालय पर कांग्रेस पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं ने जमकर आतिशबाजी की तथा एक-दूसरे को बिहार में महागठबंधन की जीत की मिठाई खिलाकर बधाई दी। इस अवसर पर चुनाव संचालक शांतिलाल पडियार, वरिष्ठ कांग्रेस नेता ठा. जोरावर सिंह, प्रकाश राका, यतीन्द्र शर्मा, आलोक भटट, विनय भाबर, जिला कांग्रेस प्रवक्ता हर्ष भटट, आचार्य नामदेव, जितेन्द्र प्रसाद अग्निहोत्री, राजेश भटट, मुकेश बैरागी, प्रकाश बामनिया, गजेन्द्र चोहान, विकास भाबर, आदि उपस्थित थे। झाबुआ में युवा कांग्रेस द्वारा भी स्थानीय राजवाड़ा चोक पर जमकर आतिशबाजी की गई तथा संसदीय क्षेत्र के अन्य क्षेत्रों में भी कांग्रेसजनों द्वारा आतिशबाजी कर जश्न मनाया।