बिशप बसील भूरिया का अभिषेक धूमधाम से हुआ

महामहिम डाॅ सल्वातोरे पेनाकियो से आशीर्वाद लेते बिशप बसील भूरिया।
महामहिम डाॅ सल्वातोरे पेनाकियो से आशीर्वाद लेते बिशप बसील भूरिया।
डाॅ सल्वातोरे पेनाकियो का मेघनगर पहुंचने पर किया स्वागत।
डाॅ सल्वातोरे पेनाकियो का मेघनगर पहुंचने पर किया स्वागत।
कार्यक्रम में मोजूद मुख्य अतिथि
कार्यक्रम में मोजूद मुख्य अतिथि
व समाजजन।
व समाजजन।

मेघनगर। कैथोलिक डायसिस झाबुआ के नवनियुक्त बिशप फादर बसील भूरिया का पावन अभिषेक समारोह पूर्वक धूमधाम से संतर अरनोल्ड हायर सेकंडरी स्कूल प्रांगण में भारत-नेपाल के संत पापा (पोप) के प्रतिनिधि महामहिम डाॅ सल्वातोरे पेनाकियो दिल्ली द्वारा किया गया। कैथोलिक डायसिस के पीआरओ फादर राॅकी शाह ने बताया कि समारोह में कुल 18 बिशप, 260 फादर एवं 700 धर्मसंघीय बहनों के साथ 15 हजार से ज्यादा समाजजनो एवं अनेक राजनैतिक संगठनो के पदाधिकारियो व शासकीय पदाधिकारी उपस्थित थे।

भीली नृत्य के साथ जुलूस – समारोह ख्रीस्त ज्योति केन्द्र स्थित प्रांगण से जुलूस प्रारंभ हुआ। विभिन्न स्थानो से आए नृत्य दो ने आदिवासी भीली परम्परागत नृत्य करते हुए जुलूस के आगे चल रहे थे जबकि सभी अतिथि एवं पुरोहित वर्ग उनके पीछे चल रहे थे। जुलूस संत अरनोल्ड स्कूल प्रांगण जाकर मुख्य धार्मिक विधि प्रारंभ हुई।
बिशप जीवन परिचय – पीआरओ फादर राॅकी शाह ने नवनियुक्त बिशप फादर बसील भूरिया का जीवन परिचय दिया। 59 वर्षीय बिशप बसील भूरिया परिवार मे पहली संतान है। उन्होंने विभिन्न पल्लियो व संस्थाओं में कार्य किया। मुवालिया गुजरात, धार, राजगढ़, थांदला आदि स्थानों पर 30 वर्षों तक पुरोहित रहते कार्य किया।
पोप के पत्र का वाचन – विश्व कैथोलिक कलीसिया के प्रमुख संत पोप द्वारा लिखित नियुक्ति पत्र कैथोलिक डायसिस के चांसलर फादर पीटर खराड़ी ने आम समाजजनो, पुरोहितो व अतिथियो को सुनाया जिसका संत पोप के प्रतिनिधि आर्क बिशप डाॅ सल्वातोरे पैनाकियो दिल्ली मुख्य अतिथि एवं समारोह के मुख्य याजक ने अपने शुभ संदेश में कहा कि मैं संत पापा प्रतिनिधि होने के नाते संत पापा फ्रांसिस की ओर से आप लोगों को शुभकामनाएं एवं आशीर्वाद देता हूं। नवनियुक्त बिशप बसील भूरिया सेे कहा कि आप कैथोलिक डायसिस की अच्छी तरह से देखभाल करे। उन्होंने 24 नवबंर 2014 के संत पापा द्वारा लिखित पत्र का उल्लेख करते हुए कहा कि आप गरीबों अशिक्षित जनों के बीच जाएं एवं काम करे।हम अपनी ही शक्ति से कोई भी कार्य पूर्ण नहीं कर सकते। किंतु इश्वरीय कृपा एवं शक्ति से हम सभी अच्छे काम पूर्ण कर सकते है। आप नेता बनकर नहीं किंतु एक सच्चा सेवक बनकर लोगो की सेवा करें। उक्त प्रवचन का अनुवाद भीली में फादर जाॅर्ज भूरिया ने किया। धार्मिक समारोह पश्चात सांस्कृतिक कार्यक्रम हुआ जिसमें अतिथियों का स्वागत एवं रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति दी।
कार्यक्रम में अनेक राजनेता शरीक हुए – बिशप बसील भूरिया ने अभिषेक समारोह में आमंत्रित अनेक गणमान्य नागरिक एवं नेता तथा प्रतिनिधि बधाई देने पहुंचे जिनमें पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं पूर्व सांसद कांतिलाल भूरिया, पेटलावद विधायक निर्मला भूरिया, भाजपा जिलाध्यक्ष शैलेष दुबे, जिला उपाध्यक्ष पुरूषोत्तम प्रजापत, जिला सहकारिता उपभोक्ता भण्डार के अध्यक्ष विजय नायर, सर्वपंथ समादर मंच के अध्यक्ष सलीम कादरी, पूर्व विधायक रतनसिंह भाबर, पूर्व विधायक वीरसिंह भूरिया, युवा कांग्रेस अध्यक्ष आशीष भूरिया, पार्षद लाखनसिंह देवाणा, समाज के वरिष्ठ केसी माल, पारसिंह मुणिया, कारमेला भाबोर, भीमसिंह सिंगाड़िया, जेराम वाखला, विताल भाबर, फ्रांसिस मेड़ा, फ्रांसिस कटारा।
समारोह में भक्ति गीतों की प्रस्तुति – समारोह में अनेक स्थानों थांदला, मोहनकोट, झाबुआ, पंचकुई, मेघनगर स्थानों के रफाएल भूरिया, जेराम वाखला, आनंद मेड़ा, राजू कटारा, के ददलों ने सुमधुर गीतो की प्रस्तुति दी। कार्यक्रम का संचालन पीआरओ फादर राॅकी शाह एवं प्रोफेसर अरूण कटारा ने किया एवं फादर पीटर खराड़ी ने किया आभार प्रकट करते हुए शानदार समरोह की सफलता के लिए अतिथियों कार्यकर्ताओं एवं पुलिस प्रशासन को धन्यवाद दिया। उक्त जानकारी कैथोलिक डायसिस के मिडिया प्रभारी पीटर बबेरिया ने दी।