बहु की मौत का दोषी साबित हुआ परिवार, चार को 10 -10 साल की सजा

झाबुआ लाइव के लिऐ मुकेश परमार/ विपुल पांचाल की रिपोर्ट । 

आख़िरकार थांदला की बेटी को साढे 6 साल बाद ही सही न्याय मिल ही गया । प्रेरणा नामक जिस थांदला की युवती की मौत उसके ससुराल पारा मे 20 जनवरी 2009 को सुबह रहस्यमय हालात मे जलकर हुई थी । पुलिस अनुसंधान मे साबित हुआ था कि प्रेरणा का पति विकास कांकरिया , उसका पिता सुभाष कांकरिया , उसकी मां आशा कांकरिया ओय देवर आकाश कांकरिया लगातार प्रेरणा को प्रताड़ित करते है । उसके साथ मारपीट भी की जाती थी ।

10 -10 साल की सजा घोषित 

झाबुआ की विशेष ओर अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश के सी बांगर ने आज एक महत्वपूर्ण फैसले मे प्ररेणा की मृत्यु के लिऐ दोषी करार देते हुए उसकी पति , सास , ससुर ओर देवर को 10 -10 साल की सजा ओर अर्थदंड का एलान किया । इस तरह कोट॔ मे साबित हुआ कि प्रेरणा की मौत के जिम्मेदार उसकी ससुराल वाले ही है ।

मायके वाले फैसले से खुश —

दुष्ट बहन के ससुराल वालो को कोट॔ की सजा के एलान के बाद प्रेरणा का भाई भूपेंद्र बेहद खुश है झाबुआ लाइव से बातचीत मे भूपेंद्र नाहटा ने बताया कि आज हमे ओर मेरी बहन को न्याय मिल गया । इस फ़ैसले से हम परिवार वाले खुश है ओर दोषियो को सही सजा मिली है ।

स्वर्गीय प्रेरणा जिसकी मौत का जिम्मेदार ठहरा कर सजा हुई है ।
स्वर्गीय प्रेरणा जिसकी मौत का जिम्मेदार ठहरा कर सजा हुई है ।