निर्माण कार्यो में चल रहे भ्रष्टाचार को लेकर जनता दल ने सौंपा ज्ञापन

झाबुआ लाइव के लिए थांदला से रितेश गुप्ता की रिपोर्ट- जनता दल यूनाइटेड ने केन्द्र व प्रदेश सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ प्रदेश उपाध्यक्ष हरिओम सूर्यवंशी के नेतृत्व में बुधवार को महामहिम राज्यपाल के नाम तहसीलदार एएस राही को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन के माध्यम जनता दल ने अंचल की छोटी-मोटी समस्याओं से अवगत कराते हुए सरकार द्वारा उसके निराकरण की मांग की तथा शीघ्र निराकरण नहीं होने की स्थिति आंदोलन की चेतावनी भी दी। अल्पवर्षा, महंगाई तथा ग्रामीण क्षेत्रो में होने वाले शासकीय निर्माणों में हो रहे भ्रष्टाचार की शिकायतें करते हुए पार्टी पदाधिकारियों ने अवगत कराया कि इन जमीनी स्तर के कार्यो तथा योजनाओं के क्रियान्वयन में मॉनिटरिंग की आवश्यकता है ताकि भ्रष्टाचार रोका जा सके। प्रदेश में बैठी भाजपा सरकार आदिवासियों के विकास का ढिंढोरा पीटकर सत्ता में आई परंतु सत्ता में आते ही आदिवासियों को भूल गई। ज्ञापन में थांदला क्षेत्र को सूखाग्रस्त घोषित करने तथा आपातकाल में जेल गए आदिवासी लोगों को मीसाबंदी घोषित कर उन्हे पेंशन देने की मांग व ग्रामीण क्षेत्रों जलसंकट के चलते प्राथमिकता के आधार पर हैंडपंप की मांग की। विपक्ष में बैठी कांग्रेस भी अपने कत्र्तव्य का निर्वहन नहीं कर रही, जिससे ऐसा प्रतीत होता है कि दोनों दल आपस में मिले हुए है। इस अवसर पर जनता दल यू के जिलाध्यक्ष तोलसिंह भूरिया, जिला उपाध्यक्ष दिलीप खडिय़ा, ब्लाक अध्यक्ष नरेन्द्र मुणिया, नगर अध्यक्ष विजय कोहली, सरपंच प्रमेश मुणिया, सरपंच धापू निनामा, खूमचंद कलारा, मानीया भूरिया, उपसरपंच रिसु डामोर, कालू भूरिया, रतन डामर, मसूल भूरिया, रायचंद डामोर, सुरेश मुणिया, दलसिंह भूरिया, राकेश डामर सहित कई कार्यकर्ता उपस्थित थे। ज्ञापन का वाचन सत्यनारायण शर्मा ने किया।