झाबुआ कलेक्टोरेट में धरने का मामला भोपाल पहुंचा, गृह मंत्री व दिग्विजयसिंह से मिला जयस प्रतिनिधि मंडल

0
2938
गृह मंत्री बाला बच्चन से मिलता जयस डेलिगेशन

झाबुआ लाइव डेस्क-

– दिग्विजयसिंह से मुलाकात करता जयस का डेलिगेशन
– आनंद राय का ट्वीट

झाबुआ में बीते चार दिनों से चल रहा जयस का धरना एवं आमरण अनशन का मामला आज अनशन के बीच राजधानी भोपाल पहुंच गया। जयस के चाणक्य माने जाने वाले व्सिल ब्लोवर, डॉ. आनंद राय के साथ आज झाबुआ में धरना एवं आमरण अनशन कर रहे जयस का डेलिगेशन पहले गृह मंत्री बाला बच्चन से मिला और उसके बाद शाम को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजयसिंह से मुलाकात की। इस डिलिगेशन ने गृह मंत्री व दिग्विजयसिंह को बताया कि पेटलावद थाना क्षेत्र के घुघरी में मॉब लिचिंग के एक कथित मामले में किस तरह से पुलिस ने आदिवासियों को परेशान किया है कुछ आदिवासी के फर्जी नाम डाले गए हैं तथा ठीक से विवेचना न कर उन्हें प्रताडि़त किया जा रहा है। डेलिगेशन में पेटलावद टीआई शर्मा की दोनों नेताओं से शिकायत कर कार्रवाई की मांग की है। दोनों नेताओं ने प्रतिनिधि मंडल को आश्वस्त किया कि मामले का बारीक परीक्षण करवाया जाएगा तथा यह सुनिश्चित करने का प्रयास किया जाएगा कि कोई भी निर्दोष पर कार्रवाई न हो। गौरतलब है कि जयस के रतलाम-झाबुआ प्रभारी कमलेश्वर डोडियार के नेतृत्व में बीते चार दिनों से झाबुआ कलेक्टोरेट के गेट पर जयस का धरना व आमरण अनशन चल रहा है। जयस ने घोषणा कर रखी है कि वे ठोस जवाब या कार्रवाई के बिना अपना धरना व आमरण अनशन समाप्त नहीं करेंगे। इसी बीच डॉ. आनंद राय ने एक ट्वीट कर कांग्रेस पर परोक्ष रूप से निशाना साधा है। डॉ. राय ने अपने ट्वीट में लिखा है कि मुश्किल वक्त में जयस की याद आती है और जब बात आदिवासियों के हक की आती है , तो चुने हुए जनप्रतिनिधि पीछे हटते दिखाई देते हैं।