0
31

आये दिन की नाटक से परेशान होकर उपभोक्ताओं ने बैंक ऑफ इंडिया जोबट के खिलाफ खोला मोर्चा, गुस्साए व्यापारियों को
तहसीलदार निर्भय सिंह पटेल ने बैंक पहुंच कर शांत करवाया ।

सुनिल खेड़े@जोबट
– अगर आप का खाता बैंक ऑफ इंडिया की शाखा जोबट में है। और आप बैंक में पैसा जमा करने जा रहे है। तो 2 से 3 घंटे का समय निकालकर जाइएगा क्योंकि इस बैंक में नये केशियर साहब का लेन देन का काम इतना ढीला होने से आपको घंटो – घंटो तक लाइन में लगे रहना पड़ सकता है। शुक्रवार को भी ऐसा ही नजारा देखने को मिला कुछ ग्रामीणों और व्यापारी खाताधारक दोपहर में 1:00 बजे से बैंक में पहुंचे हुए थे लेकिन नये केशीयर साहब के सुस्त रवैया के कारण शाम के चार बज चुके थे। फिर क्या था बैंक के जवाबदारों का कहना था कि अब कल आना बैंक बंद होना का समय हो गया। लेकिन खाताधारक व्यापारीयों का कहना था कि हम लोग कई घंटों से व्यापार छोड़कर बैंक में खड़े हैं। उसके बावजूद भी हमारा आज काम नहीं हुआ हम क्या बार-बार बैंक के चक्कर ही लगाएंगे।
व्यापारी धर्मेंद्र राठौर,संदीप जैन, मोहम्मद बोहरा, चिंटु अगाल, भूरिया राठौड़, रितेश जायसवाल, बबलू राठौर आदि ने बताया कि हमने इससे विषय को लेकर मैनेजर मनोज भट्टाचार्य को वस्तुस्थिति से अवगत कराया लेकिन मैनेजर साहब का कहना था कि समय हो गया है बैंक बंद होने का आपका काम अब कल होगा हमनें निवेदन किया कि मेरा चेक लगा हुआ, मुझे अर्जेंट में पैसे जमा करना है सभी समस्या बताइए अगर आज पैसे जमा नहीं होंगे तो चेक बाउंस होने का भी डर है। आप हमारे पैसे जमा करा दीजिए लेकिन मैनेजर मनोज भट्टाचार्य ने दो टुक कह दिया आप चाहे बैंक में आग लगा दो ओर भले ही खाता बंद करवा लो लेकिन आज कुछ नहीं होगा मैनेजर के इस रवैया के कारण खाताधारक खासे परेशान दिखाई दिए अब देखना यह है कि इन परेशान खाताधारकों की परेशानी खत्म होगी या बैंक स्टॉफ की मनमर्जी चलती रहेगी खैर जोबट के सक्रिय तहसीलदार निर्भय सिंह पटेल बैंक पहुंचे उसके बाद व्यापारी को आश्वासन दिया जब जाकर व्यापारी थोड़े शांत नजर आए।
इस पूरे घटनाक्रम को लेकर बैंक ऑफ इंडिया के मैनेजर मनोज भट्टाचार्य से दूरभाष पर चर्चा करना चाहिए लेकिन चर्चा नहीं हो पाई।
इस पूरे मामले की जानकारी मुझे खाताधारक व्यापारियों द्वारा मिली है। इस प्रकार का व्यवहार बैंक प्रबंधक व स्टाफ को नहीं करना चाहिए। बैंक ऑफ इंडिया जोबट के मैनेजर व स्टाफ को समझाइश दी जाएगी अगली बार इस प्रकार का व्यवहार ग्राहकों के साथ न करें

– सोरभ जैन
एलडीएम अलिराजपुर

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here