3 दिनी स्वास्थ व पोषण पर प्रशिक्षण में नौ गांव की सचेत दीदी ने सहभागिता की

0
131

रितेश गुप्ता, थांदला
थांदला ब्लॉक में चेतना संस्था मिशन अन्त्योदय एक साझा पहल के तहत मप्र आजीविका मिशन और टीआरआईएफ़ की सहयोगी संस्था के रूप में स्वास्थ और पोषण के विषय पर 70 गांव में कार्य कर रही है। इसी कड़ी में संस्था द्वारा स्वास्थ्य सचेत जीजी को 3 दिवसीय प्रशिक्षण 19 नवंबर से 21 नवंबर तक दिया गया। प्रशिक्षण के बारे में जानकारी देते हुए संस्था के ब्लॉक समन्वयक सुशील शर्मा ने बताया कि इस प्रशिक्षण में 9 गांव की सचेत दीदी ने सहभागिता की ओर प्रशिक्षण में किशोरावस्था और ख़ुशहाली में किशोर अवस्था क्या है। महावारी के दौरान साफ सफाई के बारे में और पोषण के बारे में शासन द्वारा किशोरों को डी जाने वाली सेवाओ के बारे में बताया जीवन चक्र ओर स्तनपान का महत्व में 1 घंटे के अंदर स्तनपान, 6 माह तक केवल स्तनपान, 7 दिन में बच्चे को नहलाना, कंगारू केयर शिशु सुरक्षा घर के बारे में समझाया गया, कुपोषण ओर ऊपरी आहार खिलाने के महत्व में कुपोषण को कैसे देख सकते हैं जिसमें उम्र के अनुसार वजन ना होना, ऊंचाई ना होना, शारारीक और मानसिक विकास ना होना के बारे में बताया गया, कुपोषण ओर दस्त से रोकथाम में ओआरएस के उपयोग यदि नहीं हो तो घर पर भी ओआरएस बनाने की विधि के बारे में बताया, हाथ धोने के 8 चरण न्यूमोनिया, खसरा ओर टीकाकरण के बारे में बताया जिसमे 5 साल की उम्र तक कितने टीके लगाते है। इसके कौन कौन सी बीमारी से बचा जा सकता है उसके महत्व के बारे में बताया गया। प्रशिक्षण के उपरांत यह सचेत जीजी अपने अपने गाँव मे ग्राम संगठन और समूह में इन विषयों के बारे में बताएंगे। प्रशिक्षण में चेतना संस्था की ब्लॉक टीम से रीना रावत, आकाश शर्मा एवं टीआरआईएफ से अजय गहलोत का सहयोग रहा।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here