समाजजनो ने सामुहिक रुप से ईद उल अजहा की नमाज अदाकर दी मुबारकबाद

0
40

विजय मालवी, बड़ी खट्टाली

मुस्लिम समाजजनों ने सोमवार को ईदुलजुहा का पर्व हर्षोल्लास के साथ पारंपरिक रुप से मनाया। समाजजनो द्वारा ईद कि विशेष नमाज नगर की मस्जिद में अदा की गई। समाजजनो ने एक दुसरे से गले मिलकर पर्व की मुबारकबाद पेश की। इस अवसर पर बडी संख्या मे मुस्लिम समाजजन मोजुद थे। वहि दुसरी और धार्मिक रिति-रिवाज एवं परंपरानुसार समाजजनो द्वारा जानवरो बकरो के कुर्बानी करने की रस्म अदायगी भी की गई, जो आगामी बुधवार तक जारी रहेंगी।
नमाज अदाकर मांगी अमन-चैन की दुआंए
धार्मिक जानकारी अनुसार बकरीद का पर्व अल्लाह को खुश करने व मानवता की भलाई के लिए हर कुर्बानी देने का सबक देेता है। हजरत इब्राहिम ने अल्लाह के हुक्म को तामिल करने अपने सबसे प्रिय पुत्र इस्माईल को कुर्बान करने का प्रयास किया। लेकिन अल्लाह के करम से इस्माईल की जगह दुम्बा भेड़ कुर्बान हो गया। इसी परम्परा का निर्वहन करते हुए हर वर्ष मुस्लिम समुदाय द्वारा बकरीद पर बकरो की कुर्बानी दी जाती है। मौलाना साहब ने बताया कि मुस्लिम धर्मग्रंथों में गरीबों का खास ख्याल रखने की बातें कही गई है। कुर्बानी के सामान को तीन हिस्सों में बांटा जाता है। पहला हिस्सा खुद एवं परिवार के लिए, दूसरा हिस्सा दोस्तों व रिश्तेदारों के लिए और तीसरा हिस्सा गरीबों को दिया जाता है। ऐसे गरीब जो कुर्बानी नहीं कर सकते, उन्हें इसका मलाल न हों, इस बात का विशेष ध्यान रखा जाता है।।

मुस्तैद रहा प्रशासनिक  अमला

नगर मे ईद त्योहार  के चलते  किसी भी अप्रिय घटना न हो ईस लिए  पुलिस चौकी प्रभारी व राजस्व  विभाग से शर्मा पटवारी पुरे समय   नगर मे मौजूद रहे ।

)