विश्व हिंदू परिषद व बजरंग दल ने राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंप हिंदू आस्था पर चोट करने वालों की कार्रवाई की मांग

0
396

जितेंद्र वाणी (राज), नानपुर
विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल मालवा प्रांत ने आज राष्ट्रपति के नाम एक ज्ञापन नायब तहसीलदार सरजता गामड़ को सौंपा। इस ज्ञापन में हिंदू संगठन ने अलगाववादी मानसिकता, जिहादी विद्रोहियों द्वारा मंदिर व मूर्तियों को तोडऩे, मॉब लिंचिंग के नाम पर बदनाम करने तथा गौरक्षकों को बदनाम करने का षड्यंत्र करने के प्रयासों की ओर ध्यान आकर्षित किया। इसी के साथ छोटी बालिकाओं को जिहादियों की दिन-ब-दिन बढ़ती दरिंदगी शर्मसार कर रही है। वहीं ज्ञापन में कहा गया कि जिहादी, आतंकवाद की बात हो व लव जिहाद की, हिंदुओं के जबरन धर्मांतरण की बात या उनके पलायन की, कश्मीरी अलगाववाद की बात हो, या केरल में हिंदुओं पर सतत हो रहे आक्रमण जानलेवा हमलों की, राजधानी दिल्ली के व्यवसायिक केंद्र चांदनी चौक क्षेत्र में मंदिर व हिंदू घरों पर आक्रमण करने की, इसके अलावा सूरत, जयपुर, रांची में भारत विरोधी, हिंसक प्रदर्शनों से हिंदू समाज आक्रोशित होने की बात कही गई। इसी के साथ हिंदू संगठनों ने चोरों, गौ-हत्यारों, गौ-तस्करों पेशेवर हमलावरों को बचाने व उनके कुकर्मों पर पर्दा डालने के लिए योजनाबद्ध तरीके से हिंदू आस्था केंद्रों को निशाना बनाने की बात कही गई। साथ ही जयश्री राम जैसे उद्घोष को भी बदनाम करने का कुत्सित प्रयास जिहादियों द्वारा करने की बात कही गई। विहिप के जिला मंत्री गोपाल डावर ने अराजक तत्वों के मित्थक प्रचार तथा प्रत्यक्ष व परोक्ष हमलों पर अंकुश लगाकर हिंदू समाज तथा राष्ट्रीय मूल्यों की रक्षा करने की मांग की गई है।

)