पीएससी परीक्षा में पूछे गए आपत्तिजनक प्रश्न को लेकर विधायक मुकेश पटेल ने मुख्यमंत्री को चिट्ठी लिख की, मप्र लोकसेवा आयोग सार्वजनिक माफी मांगने व जिम्मेदारों पर की कार्रवाई की मांग

0
368

फिरोज खान, ब्यूरो चीफ अलीराजपुर
मप्र लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित प्रारंभिक परीक्षा में भील जनजाति के संबंध में आपत्तिजनक गद्यांश के माध्यम से पूछे गए पांच प्रश्न को निरस्त कर आयोग द्वारा सार्वजनिक रूप से माफी मांगी जाए। इस गद्यांश में भील अनूसूचित जनजाति के संबंध अपराधिक षड्यंत्र रचते हुए भील जनजाति को अपमानित करने के लिए ये प्रश्न जानबूझकर पूछे गए है। जिससे हम अनुसूचित जनजाति समाज के लोग अपमानित महसूस कर रहे है और भील समाज के मान सम्मान को गहरा आघात पहुंचा है। समाज इस कृत्य की कडी निंदा करता है। उक्त बात विधायक मुकेश पटेल ने सोमवार को मुख्यमंत्री कमलनाथ को लिखे पत्र में कही। उन्होंने मांग की कि इन पांच प्रश्नों को निरस्त कर शेष अंक का पूर्णांक में निर्धारण किया जाए। मप्र लोक सेवा आयोग द्वारा इस निंदनीय कृत्य के लिए लिखित में सार्वजनिक माफी मांगी जाए और जिम्मेदारों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए तथा ध्यान रखा जाए कि भविष्य में इस प्रकार की पुनरावृत्ति नहीं हो।

)