रूढ़ियां तोड़ बेटी ने निभाया बेटे का फर्ज, पिता की चिता को मुखाग्नि देकर किया अंतिम संस्कार

0
1254
पीयूष चंदेल@ अलीराजपुर
स्थानीय असाडा राजपूत समाज के सदस्य व जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान के पूर्व प्रभारी प्राचार्य हेमन्त सिंह वाघेला का कल गुजरात के पारुल हॉस्पिटल में निधन हो गया। श्री वाघेला किडनी की बीमारी से त्रस्त थे। हर सप्ताह डायलिसिस भी करवाते थे। गुरुवार रात्रि में अचानक तबियत बिगड़ने पर परिजन उन्हें पारुल हॉस्पिटल ले गए, लेकिन ज्यादा गंभीर हालत होने से कल दोपहर उनकी मौत हो गयी। जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान अलीराजपुर में रहते हुए हुए उन्होंने शिक्षा के क्षेत्र में कई उल्लेखनीय कार्य किये। प्रशिक्षण एवं मोनिटरिंग में उनका सराहनीय कार्य रहा है। इनके परिवार में पत्नी व दो पुत्रियां है। उनकी इच्छानुसार उनकी बड़ी पुत्री कुमारी मीनल वाघेला ने आज उनके पार्थिव देह को मुखाग्नि देकर बेटे का कर्तव्य निभाया।
स्थानीय पंचेश्वर धाम पर आज उनकी अंत्येष्टि की गई। जिसमें समाज जन व नगर के गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here