नौनिहालो की सुरक्षा पर लगा प्रश्नचिन्ह, स्कूल संचालक कर रहे मनमानी

0
42

मयंक गोयल, राणापुर
बच्चे पढ़ लिखकर अपने परिवार और देश का नाम रोशन करे इस कवायद में पालक अपने बच्चों को प्राइवेट स्कूलों में दाखिला करा देते है उनके नौनिहालों की सुरक्षा पर ध्यान न तो पालक देते है और न ही स्कूल मैंनजमेंट। इसकी बानगी उस समय देखने को मिली जब शहर की का एक निजी स्कूल के तीन छात्र एक एक तीन पहिया वाहन में जैसे तैसे लटककर अपने गंतव्य पर जाते नजर आए। विडंबना यह है कि स्कूल मैनजमेंट पढ़ाई के नाम पर न सिर्फ पालकों से मोटी फीस वसूलता है बल्कि बच्चों को लाने ले जाने का किराया भी अलग से वसूलता है लेकिन बच्चों की सुरक्षा का ध्यान नहीं दिया जाता है एवं निजी स्कूल संचालक उन्हें तीन पहिया वाहनों से ठसाठंस भरकर छोड़ता है। अगर इसी तरह से चलता रहा और बच्चों की सुरक्षा का ध्यान नहीं रखा गया तो भविष्य में बड़ी दुर्घटना के स्कूली नौनिहाल बच्चें शिकार हो जाएंगे। फिलहाल निजी स्कूल संचालक बड़े मुनाफे के लालच में गुणवत्ताविहीन वाहनों से लाते-ले जाते है। जिम्मेदार विभाग व उनके अधिकारियों को चाहिए कि वे ऐसे स्कूलों को चिन्हित कर स्कूल संचालकों पर कार्रवाई करे अन्यथा भविष्य में कोई बड़ी दुर्घटना हो सकती है।