अतिप्राचीन शीतला माता मंदिर पर महिलाओं ने की पूजा-अर्चना; लगाया ठंडे भोजन का भोग

0
95

जितेंद्र वाणी@ नानपुर

आज नानपुर में शीतला पूजन का कार्यक्रम शांति पूर्वक सम्पन्न हुआ सुबह से ही धोलखेड़ा मार्ग जो ग्राम से तीन किलो मीटर दूर बना अतिप्राचीन शीतला माता का मंदिर बना हुआ है जहाँ पर सभी समाजनो के प्रमुख इस मंदिर पर आज के दिन सेवा भाव से धर्म लाभ लेते है इस मंदिर के में पूजन के बाद सभी लोग घरों में जाकर भोजन या नास्ता करते है मंदिर में प्रशासन की ओर से किसी भी गाइट लाइन का पालन कराते नही दिखा मंदिर में भीड़ भाड़ लगने लगी आम जनता महिलाये मास्क जरूर पहन के आये पर सोशल डिस्टेंस का पालन नही हुआ जब कि जिला प्रशासन की ओर से कोरोनो के बढ़ते मरीजो को देखते हुए कोविड 19 का पालन करना जरूरी था लेकिन किसी भी गाइट लाईन का पालन आज मंदिर में नही दिखाई दिया। मंदिर के सामने गन्ने या बर्फ के गोले कुल्फी की दुकानों पर भारी भीड़ दिखाई दे रही थी हालांकि प्रशासन की ओर से चार पांच गांव अजन्दा, सेज़गाव, माछलिया, नानपुर, तीती गांव पटवारी व चौकीदार, पुलिस बल के साथ अलीराजपुर नायब तहसीलदार जितेंद्र सोलंकी भी मौजूद थे। मंदिर में कोरोनो की गाइड लाइन को देखते हुए सभी समाजजनो ने सहभोज व रंग गुलाल आदि होली नही खेलने का प्रस्ताव पहले ही बना लिया था होली पर्व शांतिपूर्ण रूप से मनाए जाने से सभी समाजनो के अध्यक्ष ने प्रशासन का आभार माना ।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here