देव झुलनी ग्यारस पर निकले झूले से नगर हुआ धर्ममयी

0
361

गगन पंचाल, कल्याणपुरा-देव झुलनी ग्यारस पर निकले भगवान नगर भृमण पर नगर के चारभुजा मंदिर, अम्बे माता मंदिर एव श्रीकृष्णा मंदिर सहित तीन झूले ढ़ोल ताशों एव भक्तो के साथ राजवाड़े से प्रारंभ यह यात्रा पूरे नगर से निकलती है जिसका धर्म प्रेमी जनता जगह जगह पूजा अर्चना कर धर्म लाभ लेती है मान्यता है कि भगवान के झूलो के नीचे से निकलने एव परिक्रमा करने से दुखों का निवारण होता है नगर से निकलने के बाद गुलाबी नदी पर पहुँची जहाँ पर महाआरती हुई एव फिर सभी तीनों झूले अपने अपने मंदिर पर पहुचे जहा झूला लगा कर भगवान को झुलाया जाता है भजन कीर्तन किया जाता है ।