गौपालकों की उदासीनता से गौवंशीय पशुओं की हो रही फजीहत, दिनभर सड़क पर गांव में फिरते हैं पालतु पशु

0
146

जितेंद्र वाणी, नानपुर
जिले की सबसे बड़ी ग्राम पंचायत में मालिको द्वारा सुबह दूध निकालने के बाद गायो को छोड़ देते है व दिन भर इधर उधर की मारे-मारे फिरते रहते हैं। इसी के साथ सड़कों पर टोली के टोली बैठे रहते हैं, वहीं स्कूली बच्चों को गिराते हुए जख्मी घायल करते है। वही खेतों में जाकर किसानों की फसले खा जाते है। रात को बड़े बड़े लट्ठ से इन जानवरों को दौड़ाते हुए देखा जा सकता है। वहीं ग्रामीणों ने बताया कि हमारी खेतो में फसलों को नुकसान गौवंशीय पशु पहुंचा रहे जानवरों के मालिकों को कई बार बताया गया कि इन जानवरों को घरों में हिफाजत से रखो, लेकिन कोई भी नही सुनते सुबह वही गौवंशीय सड़कों पर नजर आते है रातों को खेतों में दिखाई देते है, लेकिन किसी के भी कान में जूं तक नहीं रेंग रही है। वहीं सरपंच सावन मारू करते हैं कि वाहनों में लाऊड स्पीकर लगा के एलाउंस करवा के ग्राम वासियो को अवगत करवा दिया है कि पशु मालिक अपने पालतु पशुओं को घर में बांधकर रखे, नहीं तो पंचायत सभी पशुओं को जब्त किया जाएगा। वही लीलाराम वाणी ने हा कि कल कुक्षी नगर पालिका से 15 गायों को नानपुर गौशाला छोड़कर आए हैं।
)