कोरोना-19 ड्यूटी कर रहे आरक्षक ने पेश की मानवता की मिसाल, प्रसूता माता को पहुंचाया चिकित्सालय

फिरोज खान, अलीराजपुर

पुलिस अधीक्षक अलीराजपुर विपुल श्रीवास्ताव के द्वारा बताया गया कि अलीराजपुर पुलिस का प्रत्येक अधिकारी-कर्मचारी कोरोना 19 की ड्यूटी में दिन रात एककर कोरोना जैसी माहमारी के संक्रमण को जिलें में रोकने हेतु अपने कर्तव्य परायणता का परिचय दे रहे है। इसी ड्यूटी के दौरान थाना जोबट चौकी खटटाली के आरक्षक गुमान सिंह चौहान व कस्बे की गीता पति भुरू प्रजापत और सपना पति मिथुन प्रजापत के द्वारा आज एक प्रसव पीडि़त महिला की सहायता की। ग्राम मसनी की महिला को को प्रसव पीड़ा होने से 108 एम्बुलेंस को कॉल किया किंतु एम्बुलेंस किसी ओर इवेंट पर होने से नही आ पाई। महिला को प्रसव पीड़ा तेज होने से महिला पैदल चल कर हॉस्पिटल आ रही थी कि अचानक रास्ते मे प्रसव पीड़ा बढ़ गयी। तभी कस्बे में ड्यूटी पर तैनात आरक्षक गुमानसिंह चौहान को महिला रास्ते मे लेटी हुई दिखाई दी। गुमानसिंह द्वारा महिला से पूछा तो महिला द्वारा प्रसव पीड़ा होना बताया। तभी कस्बे की गीता पति भुरू प्रजापत और सपना पति मिथुन प्रजापत व अन्य महिलाएं भी मौके पर आ गयी। आरक्षक गुमानसिंह द्वारा महिला से पूछा कि क्या वो मोटरसाइकिल पर बैठ कर हॉस्पिटल तक चल सकती है? महिला द्वारा दर्द ज्यादा होने से नही जा पाना बताया। लॉकडाउन के कारण कोई आवागमन का साधन नही होने से आरक्षक गुमानसिंह द्वारा तत्काल एक हाथ ठेले का इंतजाम किया गया। महिला को ठेले पर लिटाते समय महिला ने उसी स्थान पर एक पुत्र को जन्म दिया। कस्बे की महिलाओं द्वारा महिला की सुरक्षित डिलीवरी करवाई गयी। उसके बाद आरक्षक गुमानसिंह के द्वारा मां-बेटे को सुरक्षित रूप से हॉस्पिटल पहुँचाया। अभी मां और बेटा दोनो सुरक्षित है। इस विकट समय मे कस्बे की महिलाओं ओर हमारे आरक्षक के द्वारा किया गया कार्य काफी सराहनीय है। चौकी खटटाली में तैनात आरक्षक 159 गुमान सिंह के द्वारा कर्तव्य परायणता के साथ.साथ मानवता की मिशाल पेश की गई है जो निश्चित ही अलीराजपुर पुलिस के लिये गर्व की बात है । पुलिस अधीक्षक अलीराजपुर विपुल श्रीवास्तिव के द्वारा आरक्षक गुमान के इस सराहनीय कार्य एवं इनके उत्साकहवर्धन हेतु 500 नकद राशि से पुरस्कृत किए जाने की घोषणा की।
)