Top

कलेक्टर की खरी-खरी, काम नहीं करने के कई बहाने बनाए जा सकते है

1

अलीराजपुर, एजेंसीः काम नहीं करने के कई बहाने बनाए जा सकते है। काम करने के लिए प्रबल इच्छाशक्ति की आवश्यकता होती है। जिनमें कार्य करने की इच्छाशक्ति थी उन्होंने कार्य समयसीमा में पूर्ण कर दिखाया और जो कार्य के प्रति उदासीन है, वे तरह-तरह के बहाने बनाते रहते है।

उक्त बातें कलेक्टर श्री शेखर वर्मा ने आज समस्त प्राचार्यो, बी.ई.ओ.एवं बी.आर.सी. से ई-अटेन्डेंस, समेकित छात्रवृत्ति एवं जाति प्रमाण पत्र के संबंध में कलेक्टर सभाकक्ष में आयोजित बैठक में कहीं। बैठक में सहायक आयुक्त श्री एम.के.मालवीय, सहायक संचालक श्री नरेन्द्र भिड़े एवं समस्त प्राचार्यगण, बी.ई.ओ.एवं बी.आर.सी उपस्थित थे।

काम करने के लिए प्रबल इच्छाशक्ति होना चाहिए:

समेकित छात्रवृत्ति की समीक्षा के दौरान कुछ आहरण एवं संवितरण अधिकारियों ने बताया कि पोर्टल की आईडी नहीं ओपन हो रही है, जिसके कारण छात्रवृत्ति मेपिंग की वांछित प्रगति नहीं हो पा रही है। कलेक्टर श्री शेखर वर्मा ने कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि काम नहीं करने के कई बहाने बनाए जा सकते है। काम करने के लिए प्रबल इच्छाशक्ति की आवश्यकता होती है। जिनमें कार्य करने की इच्छाशक्ति थी उन्होंने कार्य समयसीमा में पूर्ण कर दिखाया और जो कार्य के प्रति उदासीन है, वे तरह-तरह के बहाने बनाते रहते है। जब एक कार्य को किसी अधिकारी ने पूर्ण कर दिया है तो दूसरे क्यों नहीं कर पा रहे है। आगामी बैठक तक किसी भी स्थिति में छात्रवृत्ति मेपिंग का कार्य शतप्रतिशत होना चाहिए अन्यथा संबंधित के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

संबंधितों कारण बताओं सूचना पत्र जारी करें:

जाति प्रमाण-पत्र की समीक्षा दौरान बताया गया कि जिले के लोक सेवा केन्द्रों में अभी तक 46 हजार आवेदन पत्र जमा किए गए है, जबकि जाति प्रमाण पत्र 1 लाख 71 हजार बनाए जाना है। लोक सेवा केन्द्रों में जाति प्रमाण पत्र ऑनलाइन करने में लापरवाही बरती जा रही है। इस पर कलेक्टर श्री वर्मा ने संबंधित को निर्देश दिए कि लोक सेवा केन्द्रों के प्रबंधकों की सेवा समाप्ति करने संबंधी नोटिस जारी किए जाए। कलेक्टर श्री वर्मा ने सहायक आयुक्त आदिवासी विकास को निर्देश दिए कि इस कार्य की प्रगति की रिपोर्ट आहरण एवं संवितरण अधिकारीवार प्रस्तुत की जाए जिनके द्वारा कार्य में उदासीनता बरती जा रही है उन्हें कारण बताओं सूचना पत्र जारी किया जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि जाति प्रमाण पत्र बनाने के लिए संकुलवार शिविर का आयोजन करें। जाति प्रमाण पत्रों के आवेदन की पूर्ति भी विद्यालय में ही कराएं। अपूर्ण आवेदन लोक सेवा केन्द्रों में जमा नहीं किए जाए। लोक सेवा केन्द्रों में आवेदन जमा करने के लिए जिम्मेदार व्यक्ति को ही भेजा जाए।

ई-अटेडेंस एप्लीकेशन डाउनलोड कराएं:

कलेक्टर श्री वर्मा ने कहा कि एण्ड्रॉइड मोबाईल फोन पर ई-अटेडेंस एप्लीकेशन डाउनलोड न करने वाले जनशिक्षक, प्राचार्य एवं छात्रावास अधीक्षको की सूची उपलब्ध कराई जाए। शिक्षकों से एण्ड्रॉइड मोबाईल फोन पर ई-अटेडेंस एप्लीकेशन डाउनलोड कराएं।

1 Comment
  1. nirmal pandya says

    jay ho , bahut badiya

Leave A Reply

Your email address will not be published.