कन्या छात्रावास की बाउंड्रीवाल टूटी, विधायक के निर्देश को भी गंभीरता से नहीं लिया

0
104

विजय मालवी, बड़ी खट्टाली

कन्या छात्रावास बड़ी खट्टाली जहां पर छठी से आठवीं तक की 20 छात्राएं रहती है। उक्त छात्रावास का भवन जर्जर  हो चुका है। कन्या छात्रावास के आगे व पीछे दोनों कोने टूट चुके हैं रात्रि में कभी भी बदमाश आसानी से घुस सकते हैं। जहां कोई घटना घटित हो सकती है इस संबंध में आदिम जाति कल्याण विभाग का कोई ध्यान नहीं है। 

गत दिनों जोबट विधानसभा क्षेत्र की विधायक सुलोचना रावत ने भ्रमण के दौरान कन्या छात्रावास के भवन को देखा था एवं टूटी हुई बाउंड्रीवाल को भी देखा था एवं तत्काल सहायक आयुक्त जानकी यादव को दूरभाष पर तत्काल ध्यान देने की विशेष पहल की थी। लेकिन आज तक उक्त कन्या छात्रावास की किसी अधिकारी ने सुध नहीं ली। जिस दिन दीवारे वह परकोटा टूटा था। उसी दिन जोबट के एसडीएम देवकीनंदनसिंह एवं आदिम जाति कल्याण विभाग से अलीराजपुर के बीओ संजय परवाल ने आकर कन्या छात्रावास की स्थिति को देखा था एवं आश्वासन दिया था कि शीघ्र ही उक्त बाउंड्रीवाल बन जावेगी। लेकिन दोनों अधिकारी के अवलोकन के बाद आज तक बाउंड्रीवाल नहीं बनी।

दीवार गिरे लगभग 6 माह हो चुके हैं। आज रविवार को ग्राम पंचायत के नवनिर्वाचित सरपंच चैन सिंह डावर एवं पंचायत के जनप्रतिनिधि रमेश मेहता एवं विजय मालवी ने कन्या छात्रावास कर पहुंचकर भवन का एवं दीवारों का अवलोकन किया। भवन वास्तव में जर्जर होकर बाउंड्री वाल टूटी हुई है जहां पर मेंटियां बंधी हुई है। इस संबंध में सरपंच चैनसिंह डावर ने उपस्थित पत्रकारों को चर्चा करते हुए बताया कि शीघ्र ही इस संबंध में जिला कलेक्टर राघवेंद्र सिंह से पूरे घटना की जानकारी देंगे एवं बाउंड्री वाल हेतु पहल करेंगे। 

इस संबंध में पंचायत प्रतिनिधि रमेश मेहता ने बताया कि शीघ्र ही जोबट विधानसभा क्षेत्र की विधायक सुलोचना रावत को कन्या छात्रावास की स्थिति से एवं टूटी हुई बाउंड्रीवाल के संबंध में अवगत करावेगे। मेहता ने बताया कि उन्होंने पूर्व में जिला कलेक्टर राघवेंद्रसिंह एवं सहायक आयुक्त जानकी यादव को इस संबंध में अवगत कराया था। इस संबंध में विधायक श्रीमती रावत ने जिला प्रशासन एवं सहायक आयुक्त को तत्काल ध्यान देने की पहल की थी। मेहता ने बताया कि विधायक श्रीमती सुलोचना रावत के प्रयासों से कन्या छात्रावास परिसर में दो अतिरिक्त कक्ष की स्वीकृति प्राप्त हो गई है। जिसकी लागत 8 लाख है उक्त कार्य शीघ्र प्रारंभ होगा।

छात्रावास अधीक्षक श्रीमती बनी डुडवे ने पत्रकारों को बताया कि उक्त बाउंड्रीवाल 6 माह पूर्व टूटी हुवी है संबंध में उन्होंने विभाग को पत्र प्रेषित किया है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here