एनवीडीए प्रोजेक्ट की मनमानी से ग्रामीणों की फसलों को नुकसान,खड़ी फसलो में पाइप लाइन डाली जा रही है

0
145

सिराज बंगड़वाला @ खरडुबडी 

एनवीडीए का प्रोजेक्ट से डाले जा रहे नर्मदा पाइप लाइन से ग्रामीण परेशान होते नजर आ रहा है| देखे जाए तो इस साल किसानों की सोयाबीन की फसलों को भी नुकसान हुआ था| जेसे की सोयाबीन सौ किलो बोया गया था |उनके बदले किसी किसानों को बराबर बीज ऊगा है या फिर कम ऊगा है और जिसके कारण इस बार किसानों को सोयाबीन की फसलों में बहुत बड़ा झटका लगा है| क्योकि इस साल किसानों ने सोयाबीन करीब बारह हजार कुंटल के मान से बोया गया फिर भी किसानों को उसका मूल्य नहीं मिला और अब नर्मदा पाइप लाइन के ठेकेदारो की मनमानी से किसानों की रबी फसल जो कि गेहूं, चना आदि फसलो में नर्मदा पाइप लाइन डाले जा रहे है जो कि किसानों के खेतों में खड़ी फसल को नष्ट कर के ले जाया जा रहा है| जिससे किसान लोग परेशान होते नजर आ रहै है| क्योंकि अभी रबी की फसलों को नर्मदा पाइप लाइन वाले नुकसान पहुंचा रहे हैं जो कि गैहु, मक्का ,चने और शक्कररिया की फसलों को भी नुकसान पहुंचा जा रहा है जब भी ठेकेदारो से बात करने चाहते हैं तो ईनको एक ही जवाब दिया जाता है कि आपको सरकार से मुआवजा दिया जाएगा| पंरतु किसानों का कहना यह है कि अभी गैहु मक्का जेसी फसलों करीब एक माह में हो जाएगी जिसके बाद नर्मदा पाइप लाइन का काम चालू किया जाता तो किसानों की फसले भी कट जाती है और इनके लिए भी कोई रुकावट किसान नहीं करेंगे।

ठेकेदार हरिओम शर्मा:- किसानों की फसलों को नुकसान हो रहा है पंरतु हम कब तक काम बंद रखेंगे क्योंकि अगर सभी किसान यही काम रुका देते है तो हम कब काम पूर्ण कर पाएंगे हमारे द्वारा जिसकी फसलों को नुकसान होता है तो उसे मुआवजा दिया जाएगा जिसका सर्वे पटवारी द्वारा किया जाएगा।

किसानों की समस्या:- किसानों का कहना यह है कि अगर ठेकेदार द्वारा अभी काम बंद कर दिया जाता है तो एक माह में गैहु मक्का, चना और शककरीया की फसलों को नुकसान होने से बच जाएगा पहले बारिश ने किसानों का सोयाबीन की फसलों को नुकसान पहुंचाया है और अब फसल होने को आई है तो नर्मदा पाइप लाइन के ठेकेदार द्वारा नुकसान पहुंचाया जा रहा है हम शासन से यह उम्मीद रख रहे हैं कि अभी काम बंद कर दिया जाए और फसलों को नुकसान से बचा लिया जाए।

सुपरवाइजर निभाई तिवारी- जो हमको प्रोजेक्ट दिया गया है उसके ऊपर हम काम कर रहे है यदि हमे आगे से इसे रोकने का कोई आदेश आता है तो हम इस काम को रोक देंगे

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here