ईद मिलादुन्नबी का पर्व मुस्लिमों ने नूरी गार्डन में मनाया

0
69


रितेश गुप्ता, थांदला
थांदला- ईद मिलादुन्नबी का त्योहार मुस्लिम धर्मावलंबियों ने हर्षोल्लास के साथ मनाया। रविवार को मुस्लिम धर्मावलंबी पीर साहब गली में जुटे, जहां निजामी ग्रुप ने चाय-नाश्ता का इंतजाम किया। इसके बाद सुबह 10 बजे गौसिया जामा मस्जिद थांदला में पेश इमाम इस्माइल बरकाती साहब के नेतृत्व में सभी धर्मावलंबी नाते पढ़ते हुए समीप स्थित नूरी गार्डन पहुंचे। इसके बाद इमाम बरकाती साहब ने पैंगबरे इस्लाम के बारे में विस्तृत से प्रकाश डाला तथा मुसलमान ही नहीं वरना सभी धर्मों के लोग पैंगबरे के नजरिये को पेश किया।बाद निजामी ग्रुप थांदला द्वारा मौलाना इस्माइल कादरी साहब मौलाना अहद साहब मौलाना वसीम रजा मोइनुद्दीन साहब का साफा बांधकर पुष्प माला पहनाकर स्वागत किया गया। इस मौके पर मौलाना साहब ने कहा कि हमारे आका ने जो 1400 साल पहले इस दुनिया को संदेश दिया वह बताया जिस जमाने में नारी जाति का जो अपमान होता था उस दौर में अगर सबसे पहले किसी ने आवाज उठाई है तो वह सरकार ने एवं उनका हर तरह से इम्तिहान लिया गया सभी इम्तिहान में वह सफल हुए यहां तक की सच के लिए अपने पूरे खानदान राहे खुदा में कुरबान कर दिया। उन्होंने अपने घर वालों को भूखा रखकर जो अपने घर पर आया मेहमान उसे खाना खिलाया आज इतना बड़ा दिन है कि उनके सदके में आज चांद सूरज जमीन आसमान बनी नबी ना होते तो कुछ नहीं होता हमारे नबी ने हमें इंसानियत का पैगाम दिया। मौलाना साहब ने बताया कि हमारे आका ने 1400 साल पहले कहा था हिंदुस्तान से मुझे वफा की खुशबू आ रही है एवं हमारे आका को भी हिंदुस्तान से प्यार था। इस अवसर पर मौलाना साहब ने मस्जिदों में पांचों वक्त की नमाज अदा करने का उपस्थित धर्मावलंबियों को संकल्प दिलाया। इसके पूर्व मदरसा मुस्तफाइया थांदला के बच्चों को अल अमन वेलफेयर ग्रुप द्वारा यूनिफार्म वितरित की, जिसे पहनकर मदरसे के बच्चे प्रोग्राम में शामिल हुए। वहीं सदर कदरुद्दीन शेख ने मौलना बरकाती साहब, मौलाना अब्दुल अहद खान, आमीन काजी, ताज मस्जिद के इमाम साहब का पुष्पमाला से स्वागत तो वहीं 260 बच्चों की ड्रेस तैयार करने वाले मुन्ना भाई का पेश इमाम बरकाती साहब व मदरसा कमेटी व अल अमीन सोशल वेलफेयर एंड एज्यूकेशन सोसाइटी सदर अब्दुल समद खान ने पुष्पमाला से स्वागत किया। इसके पूर्व शनिवार रात को प्रशासन ने धारा 144 के तहत ईद मिलादुन्नबी के जुलूस को निकालने की इजाजत नहीं देने के चलते मुस्लिम धर्मावलंबियों ने जुलूस नहीं निकाला। इस अवसर पर सदर कदरुद्दीन शेख, कादर शेख, कमालुद्दीन, सैयद मोईनुद्दीन, शम्मी खान, इरफान खान समेत समाजजनों ने ईद मिलादुन्नबी की सभी देशवासियों को बधाई दी। स दौरान प्रशासन ईद मिलादुन्नबी के मद्देनजर पूरे दिन मुस्तैद रहा। इसके पश्चात सलातो सलाम हुआ और प्रसादी वितरण हुआ जिसमें बड़ी संख्या में समाजजन उपस्थित थे।