प्रभु के नाम का सुमिरन से ही मानव जीवन तर सकता : पं. भारद्वाज

0
68

अजय मोदी @ वालपुर
प्रकति को गोद मे बसे शिव गंगा हनुमान मंदिर ग्राम भोरण में राम कथा के चथुर्थ सौपान में व्यास पीठ पर विराजित पं.अरविन्द जी भारद्वाज ने राम कथा का रसौस्वादन करा बताया की भगवान शिव एवं माता सती के संग कुंभज ऋषि के पास राम कथा सुनने गए। आगे बताया की सुमिरह सुमिरह नर तर ही पारा,राम के नाम का सुमिरन से मानव जीवन तर सकता है।
भक्ति से ही शक्ति प्राप्त होति है,
कथा सुनने से जीवन का कल्याण होता है। आँख को बिगड़ने ना दे,आँख बिगड़ी तो मन बिगड़ेगा,मन बिगड़ा तो तन बिगड़ेगा ओर तन बिगड़ा तो जीवन बिगड़ जाएगा।
वाणी पर सय्यम रखे,बड़े जो भी कहे उसे सुने उसी में कल्याण है।लोभ का कभी अंत नही होता। कथा के विराम पश्चात आरती एवं भंडारे का आयोजन हुआ। प्रातः 10 बजे से पंचकुंडीय यज्ञ का आयोजन हुआ। बड़ी संख्या में भक्त वालपुर,सोंडवा,उमराली,अलीराजपुर से सम्मिलीत हुए।

)