जमीन के सेडे को लेकर हुए विवाद में पिता ने पुत्र को मौत के घाट उतारा

कुंवर हर्षवर्धन सिंह परिहार, राणापुर

जमीन के सेडे को लेकर हुए विवाद में पिता ने अपने रिश्तेदार के आर्थिक अपने ही बेटे को हत्या कर दी। मामला सजवानी छोटी का है। मृतकbपिंजु पिता पेमा बिलवाल उम्र 50 वर्ष निवासी ग्राम सजवानी छोटी की पत्नी हकरीबाई पति पिंजु बिलवाल उम्र 45 वर्ष की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपी पेमा पिता पिदिया बिलवाल, संदीप पिता दिनु बिलवाल, पारीबाई पति दिनु बिलवाल निवासी गण सजवानी छोटी के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है। घटना 16.06.2024 के 19.00 बजे हुई

यह है मामला

हकरीबाई पति पिंजु ने बताया मैं ग्राम सजवानी बडी रहती हुँ। घरु काम व खेती मजदुरी का काम करती हुं। कल शाम को करीबन 07.00 बजे मे मेरे पति पिंजु के साथ अपने घर के बाहर बैठी थी कि तभी वहा पर मेरा ससुर पेमा पिता पिदिया बिलवाल आया तो मेरे पति पिंजु ने मेरे ससुर पेमा को बोला कि आज से करीब 08 दिन पहले तुने मेरा जमीन का सेडा खेड दिया था तो तुम उसे सही करवा देना तो मेरा ससुर पेमा मेरे पति पिंजु को बोला कि तु कौन होता है मुझे जमीन का सेडा सही करवाने का कहने वाला, कहकर मेरा ससुर पेमा मेरे पति पिंजु को मां बहन की बुरी बुरी गालिया देने लगा मेरे पति पिंजु ने मेरे ससुर पेमा को गाली देने से मना किया तो मेरे ससुर पेमा ने अपने हाथ मे लिये खाट की लकडी से मेरे पति पिंजु के साथ जान से मारने की नियत से मारने लगा जिससे मेरे पति पिंजु को पीठ पर पसली पर गंभीर चोट आई इतने मे वहा पर मेरे देवर का लडका संदीप पिता दिनु बिलवाल व मेरी देरानी पारी पति दिनु बिलवाल भी मुझे व मेरे पति पिंजु को बुरी बुरी गालिया देते हुये वहा पर आ आये और मेरी देरानी पारी ने मुझे पकड लिया तथा संदीप ने अपने हाथ मे लिये पत्थर से मेरे पिंजु को जान से मारने की नियत से मेरे पति पिंजु के सिर मे मारा जिससे मेरे पति पिंजु को गंभीर चोट आकर खुन निकलने लगा। घटना देखकर वहा पर मेरे परिवार का कमलेश पिता पेमा बिलवाल व जोगु पिता पेमा बिलवाल मुकेश पिता मोहन अजनार वहा पर आ गये व बिच बचाव किया तो तीनो वहा से भाग गये । बाद मेरे पति पिंजु को ईलाज के लिये प्रायवेट साधन करके झाबुआ आजाद अस्पताल लेकर गये जहा पर मेरे पति पिंजु की मृत्यु हो गई। महिला ने बताया मेरे पति पिंजु की हत्या मेरे ससुर पेमा पिता पिदिया बिलवाल मेरे देवर का लडका संदीप पिता दिनु बिलवाल व मेरी देरानी पारी पति दिनु बिलवाल ने की है। बाद हमारे रिश्तेदारो के आने पर मेरे पति पिंजु की लाश को लेकर सीधे सरकारी अस्पताल रानापुर आये तथा मे मेरे पति पिंजु की लाश को रखकर मेरे परिवार कमलेश पिता पेमा बिलवाल व जोगु पिता पेमा बिलवाल मुकेश पिता मोहन अजनार तथा गांव के तडवी पप्पु को साथ लेकर थाने रिपोर्ट करने आयी हुँ। रिपोर्ट करती हुँ ।