झाबुआ लाइव के लिए राणापुर से मुकेश परमार की रिपोर्ट-
राम मंदिर कार्यों के महत्व को बताया और 6 दिसंबर को राम मंदिर अयोध्या ने मुगल कालीन परिस्थितियों का उल्लेख करते हुए कहा कि सभी हिंदुओं को संगठित रहना चाहिए और एकजुट होकर हिंदू युवाओं को कार्य करना चाहिए। प्रान्त महेश ने धर्म सभा को संबोधित करते हुए भारत के अतीत से लेकर वर्तमान तक की परिस्थितियों का उल्लेख किया। बजरंग दल एवं विश्व हिंदू परिषद की ओर से शिवाजी चौराहे से भगवा रैली का आयोजन कर पुन: शिवाजी चौक पर सभा कार्यक्रम आयोजित हुआ। रैली में डीजे बाजों की धुन पर देशभक्ति के गीतों से समूचा वातावरण देशभक्ति की भावना से ओतप्रोत हो गया। इस दौरान युवाओं ने जय श्रीराम एवं बम-बम भोले के जयकारे लगाकर वातावरण को गूंजायमान कर दिया। मुख्य वक्त महेश अंजना कहा कि हिंदू युवा जाति एवं समाज के बंधनों को तोड़ते हुए संगठित होकर आगे आएं। उन्होंने बजरंग दल एवं विश्व हिन्दू परिषद के महत्व के बारे में जानकारी दी। बजरंग दल सह संयोजक ने बताया कि 6 दिसम्बर को शौर्य दिवस के रुप में मनाया गया। धर्मसभा को संबोधित कर शौर्य यात्रा निकाली गई। धर्म सभा को नगर के शिवजी चौक पर सम्बंधित किया गया, जहां नगर के कई समाजजन प्रमुख उपस्थित हुए, जिनका विहिप एवं बजरंग दल के कार्यकर्ताओं द्वारा सम्मान किया गया। स्वागत भाषण खुमसिंह महाराज ने किया व संचालन नगर अध्यक्ष संचित जैन ने किया। आभार मनीषा छिपानी ने माना। इस आयोजन में खुमसिंह महाराज, खेड़ा प्रान्त संयोजक महेश आन्जना, महेश काग, प्रखंड अध्यक्ष  गुलाब अमलियार मंच पर उपस्थित थे। इस मौके पर मुकेश मेड़ा, राकेश परमार, रमेश सोनी, लक्ष्मी कांत सोनी, गम्भीरजी राठी, जगदीश पोरवाल, सोमसिंह सोलंकी, शैलेन्द्र सोलंकी, दिलीप नलवाया, नगर व ग्रामीण अंचल सहित बड़ी संख्या में समस्त धर्मावलंबी मौजूद थे।