क्षत्रिय सिर्वी समाज ने होली चौक पर पारंपरिक रूप से किया होली के डंडे का रोपण

0
86

सलमान शैख़@पेटलावद
आगामी 20 मार्च को होलिका दहन होगा और अगले दिन होली खेली जाएगी। शहर में होलिका उत्सव समितियों के गठन और तैयारियों का सिलसिला प्रारंभ हो चुका है। नगर में सबसे बड़ी होलीका दहन का आयोजन सिर्वी मोहल्ले के होली चौक में होता है।
प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी क्षत्रिय सिर्वी समाज ने यहां होली चौक पर पारंपरिक रूप से होली के डंडे का रोपण किया। इस बार भी होलिका दहन यहां बड़ी ही धूमधाम से मनाया जाएगा। यहां होलिका दहन पर विशेष आयोजन भी किए जाएंगे। जिसकी तैयारियां समाज के युवा मंडल द्वारा की जा रही है। समाज से सभी लोग होलिका दहन कार्यक्रम में बड़ी संख्या में भाग लेंगे।
आपको बता दे कि होली पर मान्यता होती है कि उसके तप से सभी विकार दूर होते है और किसी भी प्रकार की अनहोनी नही होती है। इसी कारण छोटे बच्चो को होली पर तपाया जाता है। डंडा रोपित कार्यक्रम में गोपाल चौधरी, भरत चौहान, आईदान परमार, बाबुलाल परमार, मोहन सोलंकी, रविकांत परमार, भगवानसिंह चौहान, संतोष परमार, गौतम गेहलोत (गौतम ग्रुप ) एवं समस्त समाज के वरिष्ठजन मौजूद रहे।

)