मामला पेटलावद मर्डर केस व देवीगढ़ महिला प्रताडऩा का पांच दिनों में दो बढ़ी वारदातें, लेकिन एसपी की सूझबूझ से दोनों मामले रिकॉर्ड समय में ट्रेस

0
272

झाबुआ लाइव डेस्क
बीते पांच दिनों में झाबुआ जिले में दो बड़ी वारदातें हुई दोनों बड़ी वारदातों ने खूब सनसनी भी मचाई, लेकिन पुलिस ने रिकॉर्ड समय में दोनों ही मामलों का खुलासा कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। यह बात अलग है कि दोनों मामलों के पीछे एसपी विनीत जैन और उनकी टीम को रात-दिन एक करना पड़ा। पहला मामला पेटलावद श्याम चौधरी ब्लाइंड मर्डर केस था, जिसे ट्रेस करना पुलिस के लिए बड़ी चुनौती थी। लेकिन घटनास्थल पर एसपी विनीत जैन के पहुंचने के कुछ ही घंटों में श्याम चौधरी हत्याकांड ट्रेस हो गया।
पुलिस ने आरोपी को भी गिरफ्तार कर आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर ली। इसी तरह से दूसरा मामला शनिवार दोपहर संज्ञान में आया, जब थांदला थाना क्षेत्र के देवीगढ़ गांव का एक वीडियो अचानक वाइरल होकर मीडिया की सुर्खी बना। इस वीडियो में एक विवाहिता को एक दर्जन से अधिक लोग प्रताडि़त करते इस बात पर मजबूर कर रहे थे, वह अपने पति को कंधे पर बैठाकर गांव में घूमे और पति को कंधे पर ही लेकर घर चले। आनन-फानन में एसपी ने थांदला पुलिस को इस महिला की तलाश कर वैधानिक कार्रवाई के निर्देश दिए। कल देर शाम को इस मामले में थांदला थाने पर एफआईआर दर्ज हो गई और आज दोपहर 12 बजते-बजते यानी 24 घंटे के भीतर ही पुलिस ने मामले केे सभी 13 नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया और शाम को सडक़ मार्ग पर पैदल कोर्ट ले जाकर न्यायालय में पेश कर दिया। इस पूरे घटनाक्रम में पुलिस ने न सिर्फ सक्रियता बताई बल्कि संवेदनशीलता का भी परिचय दिया। बीते पांच दिनों में हुई इन दोनों वारदातों को ट्रेस करने में पुलिस विभाग का टीम वर्क अपनी जगह है ही, लेकिन टीम लीडर के रूप में एसपी विनीत जैन ने असाधारण काम किया। इन दोनों प्रकरणों के अलावा बीते 48 घंटे के पहले एसपी विनीत जैन के निर्देश पर मेघनगर थाना क्षेत्र में एक जुएं के अड्डे पर भी पुलिस ने छापामारा व वहां चल रहे कारोबार को एक्सपोज किया। ठीक यहां रसुखदार लोगों के अलावा नकदी व जुआं सामग्री भी बरामद हुई।
पुलिस की यह कार्रवाई जिले में अपराध में रुचि रखने वालों के लिए साफ संदेश है कि उन्हें या तो इलाका छोड़ देना चाहिए या फिर शांति से जीवन व्यतीत करना चाहिए।

)