पंचाल समाज के सामूहिक विवाह में 12 दूल्हा-दुल्हन बंधे वैवाहिक बंधन में

0
107

काकनवानी से गोलू पंचाल की रिपोर्ट-
बसंत पंचमी के शुभ अवसर पर काकनवानी पंचाल लोहार समाज का नौवा सामूहिक विवाह विद्वान पंडितों के मंत्रोच्चार के साथ संपन्न हुआ। इस शुभ अवसर पर सुबह से ही छोटे बच्चे से बुजुर्ग महिलाएं काफी उत्साहित दिखाई दे रही थी।हर किसी के मुख पर इस आयोजन को लेकर बेसब्री से इन्तज़ार था। इस विवाह में 12 दूल्हा-दुल्हन ने सात फेरे के सात वचनों को अपनाकर अपना जीवन की गाड़ी का श्रीगणेश किया। समाज के इतने बड़े आयोजन में पहली बार देखा गया कि चाय के कप से लगाकर पानी के गिलास डिस्पोजल का उपयोग नही किया गया। इसकी जगह पर सामूहिक विवाह कार्यसमिति ने स्टिल की लोटिया और स्टील के कप का उपयोग किया गया। जिसका आए हुए मेहमानों ने तारीफ की। आयोजन में मध्यप्रदेश, राजस्थान वागड़,गुजरात, के मेहमानों का अत्यधिक संख्या में आगमन हुआ। इतने बड़े आयोजन में भोजन व्यवश्था में काकनवानी का सिध्देश्वर मित्र मंडल ,मदरानी का आजाद युवा मित्र मंडल काकनवानी की महिला मंडल का भरपूर सहयोग रहा। समिति द्वारा प्रशंसा पत्र भेंटकर इन सभी को सम्मानित किया गया। विवाह में विक्रांत भूरिया, विधायक वीरसिंह भूरिया, शांति राजेश डामोर ने पधारकर नवविवाहित को आशीर्वाद दिया। विवाह में काकनवानी पंचाल लोहार समाज का सहयोग सराहनीय रहा। कार्यक्रम को देखकर बाहर से आए अतिथियों ने समिति की काफी सराहना एवं तारीफ कर आभार प्रकट किया गया।
)