आपसी विवाद के बाद दो पक्षों में चले जमकर पत्थर, आधे घंटे तक बाजार बंद, कई ग्रामीण हुए लहुलूहान

0
618

भूपेंद्रसिंह नायक, पिटोल
मंगलवार की शाम 6 बजे पिटोल बाजार में कुछ समय के लिए अफरा तफरी मच गई जब राणापुर से माली समाज एवं अन्य गांव से छोटेे व्यापारी कुछ देर के लिए व्यापारी में विवाद हुआ जिसके बाद पिटोल गांव के ही लोगों के बीच आपसी लड़ाई करने में लहूलुहान हो गए। इस मारपीट में ईंट, पत्थर, गेती के हत्थों से एक-दूसरे पर वार किए। लोगों को पता नहीं था यहां क्यों लड़ रहे हैं पूरा आजाद चौक की व्यापारियों ने आधे घंटे तक अपने व्यवसाय बंद रखें और इन लोगों को स्थानीय लोगों ने छुड़ाए और जिन लोगों के बीच बचाव किया। उन लोगों ने व्यापारियों को के साथ झगड़ा करने धमकी देने लगे और झगडऩे वाले दोनों पक्षों के लोग इधर-उधर भागने लगे जिससे माहौल भयावह हो गया। पुलिस चौकी पर सूचना देने के बाद आधे घंटे बाद पहुंची लड़ाई झगड़े के कारण पुलिस के लेट पहुंचने से झगड़ा करने वाले भाग में गए

अपनी नाराजगी जाहिर करने पहुंचे पुलिस चौकी पर व्यापारी-
जब यह घटना घटित हुई तब पुलिस नहीं आने के कारण इस लड़ाई में कोई भी जनहानि या निर्दोष व्यक्ति घायल हो सकता था पर इस प्रकार की पुनरावृति दोबारा ना हो यह बात को लेकर व्यापारी पुलिस चौकी पहुंचे जहां पर फिर दोनों पक्ष आमने-सामने होने लगे लोगों ने फिर पिटोल के व्यापारियों ने दोनों पक्षों को शांत किया। चौकी प्रभारी का कहना था कि कुछ पुलिसकर्मी नामांकन ड्यूटी में गए थे कुछ वाहन चेकिंग में थे परंतु नगर के हाट बाजार के दिन कोई भी पुलिसकर्मी नहीं था जबकि हाट बाजार में करीब 20 से 25 गांव के ग्रामीण हाट बाजार करने आते हैं। हाट बाजार में आए दिन संदिग्ध अपराधी भी आ जाते हैं जो मोटरसाइकिल चोरिया करके चले जाते हैं

10 पुलिसकर्मियों के हवाले 30 गांवों की सुरक्षा-
पिटोल एवं आसपास करीब 30 गांव के लिए पिटोल चौकी पर एक सब इंस्पेक्टर, एक एएसआई , दो प्रधान आरक्षक, 6 आरक्षक के भरोसे चल रही पुलिस चौकी जिसमें मर्ग, दुर्घटना, चोरी ,आगजनी, बलवा आदि प्रकरणों को यही लोग संभालते हैं। इसी की आड़ में कुछ पुलिसकर्मी अवैध वसूली में लगे हैं रहते हैं काफी वर्षों से चौकी को थाने में परिवर्तन करने की मांग की जा रही है परंतु प्रशासन का इस दिशा में सकारात्मक कार्य नहीं हुआ जिसके कारण बल की कमी से जो जितिया पुलिस चौकी घटना के समय लेट ही पहुंचती है।

इस वजह से हुआ विवाद
गत माह 22 मार्च 2019 को रात्रि 9.30 बजे पिटोल के लडक़े की दुर्घटना में मृत्यु हो गई थी और जिस मोटरसाइकिल से दुर्घटना हुई थी उसके दोस्त की थी परंतु परिवार वाले इसे हत्या मान रहे हैं। इसी विषय को लेकर भील पंचायत भी हुई थी परंतु कुछ बात नहीं बनी इसलिए कल बीच बाजार हाट के समय इसको लेकर विवाद हो गया जिसमें दिनेश पिता बजा गुंडिया के सिर और मुंह पर चोट आई और अमर सिंह पिता नानका को भी चोट आई दोनों पक्षों ने पुलिस चौकी पर एफ आई आर दर्ज कराई फरियादी विजेश पिता वजा गुंडिया द्वारा अमर सिंह विजय पप्पू मूनसिह झीतरा के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई

इनका कहना है
दोनों पक्षों की तरफ से रिपोर्ट हो गई है इस विषय में जांच के बाद कार्रवाई करेंगे। गामड़, चौकी प्रभारी पिटोल

)

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here