यदि आप महंगाई बेरोजगारी से परेशान है तो कांग्रेस को वोट दें- जयवर्धन सिंह

0
166

मयंक विश्वकर्मा, आम्बुआ

आज देश में भाजपा की सरकार है प्रदेश में भी भाजपा की सरकार है इस सरकार में महंगाई बेरोजगारी चरम पर है पेट्रोल, डीजल, गैस, तेल अनाज सब मांगा हो रहा है पढ़े-लिखे बेरोजगार है रोजगार मांगने पर डंडे चलाए जा रहे हैं जनता परेशान है, यदि आप महंगाई बेरोजगारी से परेशान है तो कांग्रेस को वोट दें।

उक्त विचार आज आम्बुआ में आयोजित जोबट विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस पार्टी के प्रत्याशी  महेश पटेल के समर्थन में आयोजित जनसभा में विधायक तथा पूर्व कैबिनेट मंत्री  जयवर्धन सिंह ने व्यक्त किए। उन्होंने मंच से भाजपा सरकार पर कड़े प्रहार करते हुए काग्रेस शासन की उपलब्धियों का बखान किया। 15 वर्ष की  शिवराज सिंह की सत्ता के सामने 15 माह की कमलनाथ सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए उन्होंने कहा कि  कमलनाथ ने किसानों का कर्ज माफ किया अभी वे छोटे कृषकों के बाद जिनकी कर्ज की राशि अधिक थी उनको माफ करने की प्रक्रिया में थे कि तभी  सिंधियाजी ने सरकार गिरा दी।

उन्होंने आगे कहा कि केंद्र की  मोदी सरकार गरीबों का बिजली बिल और ऋण माफ नहीं करती है व।ह तो उद्योगपतियों का ऋण माफ करती है वर्तमान में बिजली महंगी है। कमलनाथ सरकार ने 100 रुपये में बिजली दी आज बिल इतने अधिक आ रहे हैं कि घरेलू उपभोक्ता तथा कृषक दोनों परेशान है अनाज के थैलों पर मोदी तथा शिवराज सिंह चौहान के फोटो है भविष्य में वे अनाज के दानों पर अपना फोटो भी छपवा सकते हैं।  जयवर्धन सिंह ने पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस, खाद्य तेल आदि के कांग्रेस सरकार के समय के भाव गिराए तथा आज बढ़ रहे भावों की तुलनात्मक अंतर बताया। शहरी तथा ग्रामीण आवास योजना में भेदभाव किया जा रहा है। शहरों में अधिक राशि जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में कम राशि दी जा रही है। उन्होंने कहा कि अच्छा विधायक वही होता है जो जनता की समस्या को बेहतर समझे वह कार्य महेश पटेल समझ सकते हैं। स्वर्गीय विधायक कलावती भूरिया अच्छा कार्य कर रही थी को हमारे बीच से असमय चली गई उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि कांग्रेस के उम्मीदवार को जीता कर दे कार्यक्रम में विक्रांत भूरिया ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर अलीराजपुर विधायक  मुकेश पटेल, सैलाना विधायक  हर्ष गहलोत, पानसेमल विधायक  चंद्रप्रभा किराडे, जिला कांग्रेस कार्यवाहक अध्यक्ष ओम राठौड़,दीपक भुरिया, डॉ. राजेंद्र सिंह राठौर, अमान पठान, नारायण चौहान, महेंद्र सिंह रावत, रमेश भाई, सुरेंद्र सिंह चौहान, अमरसिंह डुडवे, हासिम अली, मुस्तू बोहरा, मोगली खान, गोपाल चौहान, कमलसिंह कनेश, मुकामसिंह, रूमसिंह भूरिया, कन्हैयालाल गोयल, मजीद खान, सिराज खान, भीमसिंह, प्रेमसिंह, अजमेर सिंह (भोरदु) रमेश (उण्डवा) के साथ-साथ अडवाड़ा झौरा, बोरझाड़, आगौनी, हरदासपुर, कोटबू, वड़ी, इंदरसिंह की चौकी, भोरदू, दरकली, इटारा, टेमाची, मोटाउमर,सेवड़,आम्बी,इकघड़ी, आमखुट, सर्दी आदि अनेक ग्रामों के ग्रामीण तथा कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here